बच्चों ने कलेक्टर को बेबाक सुनाई कहानियां, 'मिल बांचे' कार्यक्रम के तहत स्कूलों में पहुंचे दर्जनभर प्रशासनिक अधिकारी।

रीवा। आज हम एक साथ पढ़ेंगे, इसके लिए मैं अपने साथ तुम लोगों के लिए किताबें भी लाया हूं...। जैसे ही कलेक्टर ने बच्चों से कुछ ऐसे ही शब्दो के साथ मिले कि बच्चों के चेहरे खिलखिला उठे। फिर क्या, परिचय होते ही बच्चों ने कलेक्टर को बेबाक कहानियां सुनाने लगे।

शनिवार को कलेक्टर 'कार्यक्रम के तहत की सुबह 11 से 5 के बच्चे मौजूद रहे। उधर, बजे अमिलकी पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले एक-एक बच्चों से हाथ मिलाए और उन्हें पढऩे के लिए सफलता और असफलता की कहानी सुनवाई।

Source ¦¦ janghatna.com