सड़कों की पेंच रिपेयरिंग के साथ-साथ स्ट्रीट लाईट संधारण का कार्य भी प्राथमिकता से किया जाए 

ग्वालियर | शहर की प्रमुख सड़कों पर बरसात के कारण हुए गड्डों को भरने का कार्य (पेंच रिपेयरिंग) तेजी के साथ किया जाए। इसके साथ ही स्ट्रीट लाईट के संधारण के साथ ही साफ-सफाई पर भी विशेष ध्यान दिया जाए। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर एवं उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने अधिकारियों के साथ चर्चा करते हुए यह बात कही।
    शनिवार को गाँधी रोड़ सर्किट हाउस पर मंत्री श्री तोमर एवं श्री कुशवाह ने जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और नगर निगम के अधिकारियों के साथ चर्चा करते हुए कहा है कि अतिवर्षा के कारण शहर की जो सड़कें खराब हुई हैं उन पर पेंच रिपयेरिंग का कार्य तेजी से किया जाए। चर्चा के दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष श्री कमल माखीजानी, ग्रामीण अध्यक्ष श्री कौशल शर्मा, पूर्व विधायक श्री रमेश अग्रवाल सहित कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री किशोर कान्याल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री आशीष तिवारी, एडीएम श्री रिंकेश वैश्य, एडिशनल एसपी सुश्री हितिका वासल और लोक निर्माण विभाग, विद्युत मण्डल, नगर निगम, पीआईयू सेल एवं अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
    ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने बैठक में कहा कि आगामी 22 और 23 सितम्बर को केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया के भी ग्वालियर में कार्यक्रम आयोजित हैं। इन कार्यक्रम स्थलों पर भी निगम साफ-सफाई, स्ट्रीट लाइट के साथ-साथ पेंच रिपेयरिंग का कार्य समय रहते पूर्ण करें। केन्द्रीय मंत्री श्री सिंधिया के प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार शहर के प्रमुख मार्गों से होते हुए महाराज बाड़ा पर भी कार्यक्रम आयोजित है।
    ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने विद्युत मण्डल के अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि वे विद्युत संधारण का कार्य मुस्तैदी के साथ करें। शहर में कहीं पर भी बिना सूचना के विद्युत अवरोध नहीं होना चाहिए। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों से भी कहा है कि बरसात को देखते हुए स्ट्रीट लाइट सभी खम्बों पर चालू रहे, यह सुनिश्चित किया जाए। जहां पर भी लाइट खराब है उसको ठीक करने की कार्रवाई की जाए।
    उद्यानिकी राज्य मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने भी बैठक में कहा कि शहर की प्रमुख सड़कों के संधारण का कार्य प्रमुखता से किया जाना चाहिए। बरसात के दौरान जो सड़कें खराब हुई हैं उन पर अभी डाम्बरीकरण नहीं किया जा सकता तो पेंच रिपेयरिंग का कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ किया जाना चाहिए।