पटना। बिहार विधानसभा में नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में प्रजनन दर घटी है, लेकिन भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर ने कहा कि हां प्रजनन दर तो घटी है, लेकिन सिर्फ हिंदुओं की परंतु एक धर्म विशेष के लोगों की आबादी तेजी से बढ़ रही है और उनकी योजना है कि बिहार सहित पूरे देश का इस्लामीकरण कर दिया जाए। इस पर असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम के विधायक अखतरूल ईमान ने कहा कि आबादी बढ़ाना मर्दानगी का काम है, जिसमें है वो बढ़ाए। 
  भाजपा विधायक हरिभूषण ने यह भी कहा दिया कि हम बिहार में इसे होने नहीं देंगे। बिहार विधानसभा के इसी सत्र में जनसंख्या नियंत्रण क़ानून लागू करने की मांग पूरी मजबूती से उठाएंगे। हरि भूषण ठाकुर कहते हैं कि एक धर्म विशेष के लोगों की सोच है कि जनसंख्या बढ़ा कर अल्पसंख्यक से बहुसंख्यक बन जाएं। संसाधन की एक सीमा है, लेकिन जनसंख्या की नहीं। विधायक ने कहा कि मुख्यमंत्री को अधिकारियों ने ग़लत जानकारी दी है। गांवों में हम जाते हैं तो नसबंदी केंद्रो पर अधिकांश लोग हिंदू ही नजर आते हैं, मुस्लिम समुदाय के लोग न के बराबर नज़र आते हैं। भाजपा विधायक हरि भूषण ठाकुर के बयान पर विधायक अखतरूल ईमान नाराज हो गए। उन्होंने कहा कि आबादी कभी नुकसान नहीं करती। ईमान ने कहा कि हिंदुस्तान बहुत बड़ा मुल्क है। यहां सबको जीने की आजादी है। अगर सदन के अंदर जनसंख्या नियंत्रण कानून पहले लाए तो तब हम जवाब देंगे कि क्या करना है। उन्‍होंने कहा कि यह बिहार में सम्भव नहीं है। कुछ लोग फिरक़ापरस्त हैं जो माहौल को खराब करना चाहते हैं, लेकिन यह सम्भव नहीं है। इस मसले पर जब पत्रकारों ने नीतीश कुमार से सवाल किया तो वो बोले कि मैंने नहीं सुना कि किसने क्या कहा, लेकिन हमने तो बिहार में जनसंख्या नियंत्रण के लिए बहुत काम शुरू किया है और उसका फायदा भी दिख रहा है।