नई दिल्ली। देश के कई राज्यों में कोरोना महामारी के फिर से तेजी से पैर पसारने से चिंतित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुख्यमंत्रियों के साथ आज एक अहम बैठक हो रही है। बैठक में दिल्ली के सीए अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को बताया कि बीते 10 नवंबर को दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर देखी गई है। उन्होंने कई मुद्दों से पीएम मोदी को अवगत भी कराया। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह के साथ कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित आठ राज्यों के मुख्यमंत्री मौजूद हैं। यह बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हो रही है। बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल समेत कई अन्य राज्यों के सीएम हिस्सा ले रहे हैं।
  बैठक के दौरान सीएम केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में 10 नवंबर को 8600 कोरोना मामलों के साथ तीसरी लहर देखी गई। उन्होंने कहा कि तब से मामले और पॉजिटिव दर लगातार कम हो रही है। तीसरी लहर की उच्च गंभीरता प्रदूषण सहित कई कारकों के कारण है। इन प्रभावित राज्यों में बीते दिनों कोरोना के मामलों में अचानक उछाल देखा गया है। पीएम मोदी आज एक अन्य बैठक भी करेंगे। इसमें कोरोना की वैक्सीन को लेकर चर्चा होगी। मीटिंग में पीएम मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना वैक्सीन के वितरण को लेकर चर्चा करेंगे। दिल्ली में कोरोना की स्थिति लगातार बिगड़ रही है। यहां लगातार चौथे दिन सौ से ज्यादा मरीजों की मौत हुई है। बीते 24 घंटों में यहां 4,454 नए मामले सामने आए और 121 मरीजों की मौत हुई। मौत का आंकड़ा बढ़ने से दिल्ली में कोरोना बेकाबू लग रहा है। इस बीच, देश के कई राज्यों के शहरों में कोरोना के बेकाबू हालात के बीच नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। इन राज्यों में गुजरात और राजस्थान शामिल हैं। अहमदाबाद में नाइट कर्फ्यू 7 दिसंबर तक बढ़ा दिया गया है। कर्फ़्यू रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा। इसके अलावा गुजरात में शादी और किसी भी धार्मिक प्रसंग को इजाजत नहीं दी जाएगी। गुजरात सरकार ने शादी, रिसेप्शन और अन्य समारोहों में 100 लोगों के शामिल होने की इजाजत दी है, इसके अलावा अंतिम संस्कारों में 50 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी गई है।