वाशिंगटन । भूकंप के तेज झटकों से दो देशों की धरती में कंपन महसूस किया गया। दक्षिण अमेरिका में चिली के ला सेरेना से 40 मील दूर 5.8 तीव्रता भूंकप के तेज झटके महसूस किए गए। अमेरिका के जियॉलजिकल सर्वे ने कहा कि इस भूकंप की गहराई जमीन से 27 मील नीचे थी। इस दौरान किसी के घायल होने या संपत्ति को नुकसान की खबर नहीं है प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक उनकी आंखें झटकों से ही खुलीं और इमारतें हिल रही थीं। ला सेरेना की आबादी करीब 2 लाख है और यह चिली की राजधानी सैंटियागो से 300 मील दूर है। चिली का तट पैसिफिक रिंग ऑफ फायर पर आता है। यह क्षेत्र टेक्टॉनिक मूवमेंट की वजह से भूकंप और ज्वालामुखी का केंद्र रहता है। वहीं, इससे पहले अफगानिस्तान के काबुल में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। यहां बुधवार को 42 तीव्रता का भूंकप आया। इसका केंद्र राजधानी काबुल से 270 किमी दूर था। इसमें भी किसी के घायल होने या संपत्ति को नुकसान की खबर नहीं है। यहां इससे पहले पिछले महीने भी ऐसा ही एक भूकंप आया था।