सांवेर सीट नाक का सवाल?:सांवेर में सिलावट को जिताने के लिए सिंधिया ने लगाया जोर, 10 दिन में दूसरी बार वोट मांगने करेंगे जनसभा
 

कंपेल की चुनावी सभा में सिंधिया कुर्सी पर नहीं बैठकर मंच पर नीचे बैठ गए थे।
18 अक्टूबर को सांवेर विधानसभा के ग्राम कंपेल में जनसभा को संबोधित किया था
26 सितंबर को सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ सांवेर में मंच साझा कर चुके हैं

उपचुनाव में भाजपा के लिए सांवेर सीट सबसे अहम बन गई है। तभी यहां लगातार बड़े नेताओं की सभाएं हो रही हैं। मंगलवार शाम एक बार फिर पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया यहां आ रहे हैं। वे सिलावट के पक्ष में यहां तीसरी सभा चन्द्रावती गंज में रैली करेंगे। उपचुनाव की घाेषणा के बाद सिधिंया अपने करीबी की जीत पक्की करने लगातार दौर कर रहे हैं। यहीं कारण है कि वे 10 दिन में दूसरी बार सांवेर पहुंच रहे हैं। 18 अक्टूबर को ही उन्होंने सांवेर विधानसभा के ग्राम कंपेल में जनसभा को संबोधित किया था। इसके पहले वे 26 सितंबर को सीएम शिवराज के साथ मंच साझा कर चुके हैं।

कल शाम को केंद्रीय मंत्री तोमर की सभा

इसके अलावा 28 को शाम चार बजे केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ग्राम धरमपुरी में सभा करेंगे। वहीं, 29 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पांचवीं बार उपचुनाव के लिए आ रहे हैं। वे सेमलिया चाऊ में रोड शो करेंगे, जो लसूड़िया, सिंगापुर टाउनशिप और निपानिया से होकर गुजरेगा। इसके बाद 30 को फिर चौथी बार सिंधिया आएंगे। वे ग्राम डकाच्या में रैली करेंगे। वहीं, राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय 30 को तीसरी बार सभा को संबोधित करेंगे। वे इस दिन ग्राम कनाड़िया में सभा लेंगे।

निपानिया में हार्डिया और पटवारी के जवाब में जिराती को उतारा

पार्टी ने कांग्रेस के जीतू पटवारी के तोड़ में जीतू जिराती को मैदान में उतारा है। उन्हें अब सांवेर में ही रहने को कहा गया है। वहीं, सांवेर क्षेत्र का जो हिस्सा विधानसभा क्षेत्र - 5 से लगा है, वहां का जिम्मा विधायक महेंद्र हार्डिया को सौंपा गया है। हिंदू संगठनों ने भी मैदान संभाल लिया है। वहीं, मुख्यमंत्री ने सांवेर के चुनाव प्रभारी रमेश मेंदोला और जिला अध्यक्ष राजेश सोनकर हर हाल में चुनाव जीतने का जिम्मा सौंपा है।