भोपाल में हादसा:देर रात घर में लगी आग, अंदर फंसा 35 साल का युवक मदद के लिए चिल्लाता; झुलसने से हुई मौत
 

विनोद घर के साथ ही बुरी तरह झुलस गया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।
आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका
मृतक शराब पीने का आदि बताया जाता है

भोपाल के कोला इलाके में सोमवार देर रात एक मकान में आग लगने से एक 35 साल के युवक की मौत हो गई। युवक घर में अकेला रहता था। घर में आग लगने से वह अंदर ही फंस गया। युवक मदद के लिए चिल्लाता भी रहा। उसकी आवाज सुन मोहल्ले के लोग जमा हो गए। लेकिन, आग इतनी भीषण थी कि कोई उसे बचा नहीं सका। युवक की आग में झुलसने से मौत हो गई।

कोलार इलाके के गरीब नगर में रहने वाला 35 साल का विनोद अहिरवार प्राइवेट नौकरी करता था। एसआई वशंज श्रीवास्तव ने बताया कि रात करीब 12 बजे विनोद के घर में आग लग गई। उसने चिल्लाना शुरु किया, तो आस-पड़ोस के लोग उसकी मदद के लिए भागे। आग पूरे घर में फैल चुकी थी, जिससे कोई भी अंदर नहीं जा पा रहा था। सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पहुंच गई। जिसके बाद टीम ने आग पर काबू पाया।


विनोद अकेला रहता था

एसआई श्रीवास्तव ने बताया कि विनोद की शादी नहीं हुई थी। उसकी मां उससे कुछ दूरी पर दूसरे मकान में रहती है, जबकि वह यहां पर अकेला रहता था। वह शराब पीने का आदी था। घर का पूरा सामान जल चुका है। ऐसे में अभी यह अंदाजा लगाना भी मुश्किल है कि आग शॉर्ट सर्किट से या किसी जलती चीज से लगी है। या फिर लगाई गई है। मौके पर एफएसएल टीम को भी बुलाया गया था। जांच के बाद ही आग लगने के कारणों का पता चल सकेगा।

दरवाजे पर कुंडी में ताला मिला

पुलिस जब मौके पर पहुंची, तो पुलिस को दरवाजे की कुंडी पर ताला लगा मिला। ऐसे में पहले आशंका यह लग रही थी कि किसी ने बाहर से जानबूझकर ताला तो नहीं लगा दिया, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हो सकी। पूछताछ और जांच में सामने आया कि कुंडी में हमेशा ताला लगा रहता था, क्योंकि कुंडी कहीं फंसती नहीं थी। ऐसे में बाहर से दरवाजा बंद होने का कोई सवाल ही नहीं है।