लखीसराय. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) के प्रथम चरण में होने वाले मतदान के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन पूर्व मुख्यमंत्री और हम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) और लोकसभा में जदयू संसदीय दल के नेता क्षेत्रीय सांसद राजीव रंजन सिंह ललन (Rajiv Ranjan Singh Lalan) ने लखीसराय (Lakhisarai) जिले के सूर्यगढ़ा और लखीसराय विधानसभा क्षेत्र में एनडीए प्रत्याशी के पक्ष में चुनावी सभा किया. इस दौरान दोनों नेताओं ने सूर्यगढ़ा विधानसभा क्षेत्र से रामानंद मंडल और लखीसराय विधानसभा क्षेत्र से विजय कुमार सिन्हा को विजय बनाने की अपील की. यहां की सभा में राजीव रंजन ने कहा कि लालू-राबड़ी के शासनकाल में केवल फिरौती के लिए अपहरण का उद्योग चल रहा था और इस उद्योग का संचालन मुख्यमंत्री आवास से होता था. जबकि पूर्व मुख्यमंत्री एवं हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार के शासनकाल में बिहार का सर्वांगीण विकास हुआ है.

'नए के हाथ में कमान देंगे तो गाड़ी एक्सिडेंट हो जाएगी'

रामगढ़ चौक प्रखंड के बकिया सुरारी में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री एवं हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने कहा कि नीतीश कुमार के शासनकाल में बिहार का सर्वांगीण विकास हुआ है. हर क्षेत्र में विकास की गाड़ी दौड़ी है. उन्होंने आम मतदाताओं से अपील की कि यदि किसी नए व्यक्ति के हाथों में कमान देंगे, गाड़ी एक्सिडेंट हो जाएगी और विकास अवरुद्ध हो जाएगा. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कार्यों की चर्चा करते हुए कहा कि इन दोनों के नेतृत्व में लगातार विकास हो रहा है. उन्होंने कहा कि बिहार में जो विकास का कुछ काम बच गया है, वह 2020 तक पूरा कर लिया जाएगा.


'लोटा की लड़ाई में बटलोही को मत गंवा दीजिएगा'
उन्होंने अपने अंदाज में मतदाताओं को कहा कि लोटा की लड़ाई में बटलोही को मत गंवा दीजिएगा, एक-एक वोट एनडीए प्रत्याशी के पक्ष में करके नीतीश कुमार के हाथों को मजबूत करने का काम करिएगा. उन्होंने तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोगों को बिहार का विकास दिखाई नहीं पड़ रहा है, उन्हें दिनौन्धी हो गया. इन्हें रात में दिखता है, जैसे रात में एक पक्षी को दिखाई पड़ता है. उन्होंने कहा कि आज नरेन्द्र मोदी के सामने विश्व के बड़े-बड़े राष्ट्राध्यक्ष सीधे तौर पर आंख मिलाकर बात नहीं करते हैं और नरेंद्र मोदी सीना तान कर संसार के सामने आते हैं. इस गौरव के लिए नीतीश कुमार के हाथ को मजबूत करना है.

अपहरण उद्योग चलता था बिहार में : ललन

क्षेत्रीय सांसद और लोकसभा में जदयू संसदीय दल के नेता राजीव रंजन सिंह ललन ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार की नीतीश सरकार केवल विकास पर ही केंद्रित रही है और विकास करना ही उनका एकमात्र लक्ष्य रहा है. उन्होंने 15 वर्षों के लालू- राबड़ी शासनकाल की चर्चा करते हुए कहा कि इनके शासनकाल में विकास की बात तो दूर सड़क, बिजली, स्वास्थ्य जैसी मूल सुविधाएं नहीं थीं. इनके शासनकाल में केवल फिरौती के लिए अपहरण का उद्योग चल रहा था और इस उद्योग का संचालन मुख्यमंत्री आवास से होता था.