स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने रायसेन स्थित वन परिसर में रायसेन नगर पालिका परिषद के तहत 55 लाख रूपए के निर्माण कार्यो का भूमिपूजन किया तथा पीएम आवास योजना के तहत 208 हितग्राहियों के खाते में सिंगल क्लिक से 197.50 लाख रूपए अंतरित किए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना से गरीबों के स्वयं के पक्के मकान का सपना साकार हो रहा है।  मंत्री श्री चौधरी ने वीरांगना रानी अवंतिका लोधी की प्रतिमा स्थापना का भूमिपूजन भी किया। 

इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि वीरांगना रानी अवन्ती बाई लोधी भारत की महान वीरांगना थीं जिन्होंने 1857 की लडाई में अंग्रेजों से लोहा लिया था और मातृभूमि की रक्षा हेतु अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। उन्होंने कहा कि नगर के सागर भोपाल तिराहा पशु चिकित्सालय परिसर में 25.49 लाख रूपए की लागत से वीरांगना रानी अवन्ती बाई लोधी की प्रतिमा स्थापित की जाएगी।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि क्षेत्र के विकास के लिए वे निरंतर काम कर रहे हैं। नगर के मुख्य मार्ग को 50 करोड़ रूपए की लागत से फोर लेन बनाया जा रहा है। इससे नगर का सौंदर्यीकरण होने के साथ ही जाम की समस्या से भी निजात मिलेगी। नगर के शासकीय कन्या स्कूल में एक करोड़ 33 लाख रूपए की लागत से ऑडिटोरियम हॉल का निर्माण कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सांची विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा 15 सितम्बर को 292 करोड़ रूपए के तथा 25 सितम्बर को 20 करोड़ रूपए लागत के विकास कार्यो का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया गया है। 

स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं और संसाधनों का विस्तार किया जा रहा है। जिला अस्पताल में कोविड-19 आईसीयू और आधुनिक पैथोलॉजी लैब स्थापित की गई है। जिले के 9 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों सहित प्रदेश के 50 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को ई-संजीवनी टेलीमेडिसिन सेवा के माध्यम से एम्स से जोड़ा गया है। ई-संजीवनी टेलीमेडिसिन केन्द्रों के माध्यम से मरीजों को एम्स के विशेषज्ञ चिकित्सकों से उपचार हेतु परामर्श प्राप्त हो रहा है। उन्होंने कहा कि गैरतगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को सिविल अस्पताल बनाया जाएगा। इसके साथ ही सांची और देवनगर में डिजिटल एक्सरे मशीन उपलब्ध कराई जा रही है। सांचेत और खरबई में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खोला जाएगा। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कोरोना महामारी के इस कठिन दौर में कमजोर वर्ग के लिए अनेक योजनाएं प्रारंभ की गई है। स्ट्रीट वेण्डर योजना के तहत ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों के पथ विक्रेता बिना किसी परेशानी के अपना व्यवसाय प्रारंभ कर सकें इसके लिए 10 हजार रूपए का ऋण बिना ब्याज के उपलब्ध कराया जा रहा है। प्रदेश के कमजोर वर्ग के 37 लाख लोगों को नवीन खाद्यान्न पात्रता पर्ची प्रदान की गई जिससे उन्हें भी उचित मूल्य पर राशन मिलने लगा है। इनमें जिले के 76 हजार से अधिक नवीन पात्र हितग्राहियों को भी उचित मूल्य राशन मिलने लगा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के 13 हजार स्व-सहायता समूहों से जुड़े एक लाख 30 हजार से अधिक जरूरतमंद ग्रामीण परिवारों को 200 करोड़ रूपये का ऋण वितरित किया गया है। प्रदेश में अनुसूचित जनजाति वर्ग के सभी पात्र हितग्राहियों को वनाधिकार पत्र प्रदान किए जा रहे हैं। कार्यक्रम में पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री जमना सेन ने भी संबोधित किया।