महाभारत में द्रौपदी का किरदार निभाकर सबका दिल जीतने वालीं और भारतीय जनता पार्टी की सांसद रूपा गांगुली ने फिल्म इंडस्ट्री पर कई सवाल खड़े किए हैं। रूपा गांगुली ने कहा, मुंबई फिल्म इंडस्ट्री लोगों को मार रही है, ड्रग एडिक्‍ट बनाया जा रहा है और औरतों का अपमान हो रहा है, लेकिन कोई कुछ नहीं कर रहा है। मुंबई पुलिस शांत है। वे कोई एक्शन नहीं ले रहे।

उन्होंने आगे कहा, पायल घोष द्वारा अनुराग कश्यप पर लगाए गए यौन उत्पीड़न मामले में बॉलीवुड शांत क्यों है? क्यों मुंबई पुलिस अनुराग कश्यप के खिलाफ कोई एक्शन नहीं ले रही?

बता दें कि रूपा ने दिल्‍ली में संसद परिसर में फिल्‍म इंडस्‍ट्री और मुंबई पुलिस के ख‍िलाफ प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान रूपा ने हाथ में कुछ तख्‍त‍ियां थीं जिसमें लिखा है, मुंबई फिल्‍म इंडस्‍ट्री और कितनी लड़कियों की इज्‍जत लूटेगा? वहीं एक पर लिखा है- कितने बच्‍चों की जिंदगी ड्रग्‍स में डुबा देगा? तो तीसरे पर लिखा है- मुंबई फिल्‍म इंडस्‍ट्री और कितने मर्डर करवाएगा?

वैसे इससे पहले सुशांत सिंह राजपूत मामले में भी रूपा ने बॉलीवुड पर निशाना साधा था। रूपा गांगुली शुरू से सुशांत मामले की सीबीआई जांच की मांग कर रही थीं। वैसे अब सीबीआई जांच को भी 1 महीने हो गए हैं, लेकिन अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है।

नेपोटिज्म पर कही थी यह बात

रूपा ने ट्विटर पर नेपोटिज्म को लेकर पोस्ट लिखा था, 'अब मैं कुछ ऐसे लोगों की फिल्में नहीं देखूंगी जिन्होंने देश को यह संदेश दिया कि छोटे शहरों के लड़के और लड़कियों को फिल्म इंडस्ट्री में नहीं आना चाहिए। नेपोटिज्म हर जगह होगा। पैरेंट्स अपने बच्चों की मदद कर सकते हैं लेकिन इतना भी नेपोटिज्म नहीं होना चाहिए कि इसके चलते कुछ लोगों को मौत के मुंह में धकेल दिया जाए।'