आप सभी जानते ही हैं भोलेनाथ का पूजन करने से कई बड़ी समस्याओं का अंत हो जाता है. जी दरअसल कहा जाता है जो लोग भोलेनाथ का पूजन करते हैं उनके जीवन से हर संकट कट जाता है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं भादौ के महीने में किये जाने वाले शिवलिंग के अभिषेक के बारे में. जी दरअसल अलग-अलग शिवलिंग के अभिषेक करने से अलग अलग मनोकामनाओं की पूर्ति होती है. आइए बताते हैं.

1. पारद शिवलिंग : कहा जाता है पारद शिवलिंग का अभिषेक करने से व्यापार बढ़ने लगता है और सौभाग्य और सुख-शांति की प्राप्ति होती है.

2. स्वर्ण निर्मित शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से सुख-समृद्धि के साथ ही स्वर्ग की प्राप्ति होती है. 3. मिश्री से बने शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से रोगों का नाश होता है.
4. मोती से निर्मित शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से स्त्री के सौभाग्य में वृद्धि होती है.

5. हीरा निर्मित शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से दीर्घायु प्राप्त होती है.

6. पुखराज के शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से धन-धान्य मिलता है.

7 . नीलम के शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से सम्मान की प्राप्ति होती है.

8. स्फटिक के शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से मनोकामनाओं की पूर्ति होती है.

9. लहसुनिया का शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से शत्रुओं पर विजय मिलती है.

10. चांदी से निर्मित शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से धन-धान्य की प्राप्ति होती है और पितरों को मुक्ति मिलती है.

11. तांबे का शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से लंबी आयु की प्राप्ति होती है.

12. पीतल का शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से समस्त सुखों की प्राप्ति होती है.

13. कांसे का शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से यश मिलता है.

14. लोहे का शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से शत्रुओं का नाश होता है.

15. बांस का शिवलिंग : इस शिवलिंग का अभिषेक करने से वंश में वृद्धि होती है.