राज्यपाल सुश्री अनुसुईया उइके के निर्देशन में COVID-19 के संक्रमण के रोकथाम में प्रदेशभर में 1000 रेडक्रॉस वालेंटियर्स अपनी सेवाएं दे रहे हैं, जिनके माध्यम से अब तक लगभग 18000 जरूरतमंदो को राहत पहुचायी गई है। यह कार्य इंडियन रेडक्रॉस सोसायटी के चेयरमेन श्री सोनमणी बोरा के मार्गदर्शन में और जिला कलेक्टर्स की मॉनिटरिंग में किया जा रहा है। राज्यपाल ने सभी वालेंटियर्स उनके स्वैच्छिक सेवा कार्य के लिए बधाई और शुभकामनाएं दी है। राज्यपाल ने कहा है कि हम एकजुट होकर इस विपदा का सामना करेंगे। उन्होंने कहा है कि इस संकट की घड़ी मंे जरूरतमंदों का यथासंभव सहयोग करे। श्री बोरा ने सभी वालेंटियर्स की सेवा भावना की सराहना की है। उन्होंने कहा है कि हम सब मिलकर कोरोना वायरस के संक्रमण को न सीर्फ रोकेंगे बल्कि इसमें कामयाब भी होंगे।
ज्ञातव्य है कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के नियंत्रण में रेडक्रॉस की टीम 22 मार्च से निरन्तर काम कर रही है। छत्तीसगढ़ रेडक्रॉस के सचिव श्री प्रणव सिंह राष्ट्रीय मुख्यालय नई दिल्ली से प्राप्त निर्देशानुसार जिला शाखाओं समन्वय बनाये हुए है। राज्य के धमतरी जिले के 456 वालेंटियर्स द्वारा 12000 लोगों को मास्क, सेनेटाइजर, हेंडवास का वितरण किया गया है। धमतरी में ही जिला प्रशासन के सहयोग से सामुदायिक किचन में भोजन बनाकर जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया जा रहा है। कांकेर, सूरजपुर सहित अन्य जिलों में लॉकडाउन के वजह से फसे अन्य राज्यों के मजदूरों को निःशुल्क भोजन प्रदाय किया जा रहा है। महासमुंद जिले रेडक्रॉस के द्वारा 300 लोगों को मास्क एवं सेनेटाइजर का वितरण किया गया है। राजनांदगांव जिल में 150 रेडक्रॉस वालेंटियर्स ने 1400 लोगांे को मास्क, सेनेटाइजर का वितरण किया है। यहां सामुदायिक किचन संचालित कर जरूरतमंद लोगों को भोजन कराया जा रहा है। राजनांदगांव में क्वारेंटाइन रखे गए लोगों को रेडक्रॉस के वालेंटियर्स नियमित रूप से दैनिक जरूरत की सामग्री भी उपलब्ध करा रहे हैं। कबीरधाम और बालोद जिले में सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए हाट बाजारों में किराना दुकानों में सब्जी मंडियों में एक-एक मीटर की दूरी पर गोल घेरा बनाए गए हैं। जगदलपुर जेल से 10 हजार मास्क तथा आजीविका मिशन से 15 हजार कपड़ों के मास्क क्रय कर इसका वितरण जनसामान्य को किया गया है। यहां रेडक्रॉस द्वारा अनाज बैंक के माध्यम से भी जरूरतमंदों को राशन प्रदान किया जा रहा है। गरियाबंद जिला रेडक्रॉस की टीम द्वारा स्वास्थ्य, समाज कल्याण, पुलिस विभाग के साथ समन्वय कर 3250 लोगों को मास्क और सेनेटाइजर का वितरण किया गया है। इसी तरह दुर्ग जिला रेडक्रॉस द्वारा हाट बाजार में आने वाले लोगांे को सेनेटाइज किया जा रहा है। बिलासपुर जिला रेडक्रॉस द्वारा 5 लाख रूपये की राशि आपदा प्रबंधन हेतु प्रदाय की गई है।