नई दिल्ली,तबलीगी जमात के लोगों को 'मस्जिद से अच्छी मौत कहीं नहीं' का पाठ पढ़ानेवाला मौलाना साद अब खुद कोरोना से डर गया है। अबतक लापता मौलाना साद का एक नया ऑडियो संदेश आया है। इसमें साद ने खुदकहा कि वह फिलहाल दिल्ली में डॉक्टरी सलाह के बाद आइसोलेशन में हैं। ऑडियो में वह अब तबलीगी जमात के लोगों को समाझा रहा है कि डॉक्टर के पास जाना शरयित के खिलाफ नहीं है। जबकि इससे पहले वायरल ऑडियो में कहा गया था कि डॉक्टरी सलाह उसी डॉक्टर की मानी जाए तो खुद अल्लाह में विश्वास रखता हो।

सरकार की मदद करने, डॉक्टर की सलाह मानने को कहा
तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद का यह ऑडियो दिल्ली मरकज के यूट्यूब पेज पर है। सुबह जारी संदेश में कहा गया है कि जमातियों को सरकार की पूरी मदद करनी चाहिए और डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए।

इलाज में अब मदद करेंगे जमाती?
दरअसल, अबतक मेडिकल स्टाफ के लोग बहुत परेशान थे क्योंकि तबलीगी जमात के लोग इलाज में साथ नहीं दे रहे थे। दिल्ली के तुकलकाबाद में जहां इन्हें रखा गया था वहां भी ये लोग घूम रहे थे। अब अपने मुखिया के बयान के बाद संभव है कि ये लोग इलाज में सहयोग करें।

मौलाना साद ने ऑडियो में जोर देकर कहा है कि डॉक्टर का कहा माना जाए। यह शरियत के खिलाफ नहीं है। साद ने यह भी कहा कि ऐसा नहीं करना समझदारी की बात नहीं है।