नई दिल्ली । कोरोना वायरस के कारण इस समय भारत में ही नहीं बल्कि सभी देशों में क्रिकेट पर बैन लगा है। द्विपक्षीय सीरीज से लेकर आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट भी स्थगित किए जा चुके हैं। जहां एक ओर सभी खिलाड़ी इससे निराश हैं, वहीं एक ऐसा भारतीय गेंदबाज भी है, जिसके लिए यह समय वरदान की तरह साबित हुआ है। तेज गेंदबाज दीपक चाहर चोट के चलते लंबे समय से क्रिकेट से दूर हैं। चाहर पिछले साल दिसंबर में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे मैच के दौरान चोटिल हो गए थे। स्ट्रेस फ्रेक्चर के कारण लंबे समय से एनसीए में थे, हालांकि 19 मार्च को एनसीए को बंद करने का फैसला किया गया, जिसके बाद अब वह अपने घर आगरा आ गए हैं। चाहर इन दिनों आगरा में अपनी ही अकेडमी में ट्रेनिंग कर रहे हैं। 
चाहर ने बताया कि एनसीए के दौरान होटल में रहना और खाना सुरक्षित नहीं है और इसी वजह से वह वापस लौट आए हैं। हालांकि वह इस समय में पूरी तरह फिट होने पर ध्यान दे रहे हैं जिसके लिए उन्हें अतिरिक्त समय मिल गया है। चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलने वाले चाहर ने कहा, हमारी आगरा की अकेडमी बंद हो गई, लेकिन मैं वहां अकेले ही प्रैक्टिस करूंगा। उन्होंने कहा दो दिन पहले ही मैंने जिम की कुछ मशीनें भी घर मंगा ली हैं, ताकि मेरे अभ्यास में कोई कमी न आए। मेरे लिए आईपीएल का स्थगित हो जाना वरदान जैसा साबित हुआ है। मेरे पास इंजरी से पूरी तरह उभरने का काफी समय होगा। अगर आईपीएल समय पर शुरू होता है, तो शायद मैं शुरुआती मैचों का हिस्सा नहीं होता। सिर्फ क्रिकेट ही नहीं चाहर घर पर रहते हुए गिटार बजाना भी सीख रहे हैं, जिसका वीडियो उन्होंने इंस्टाग्राम पर भी शेयर किया है।