बिलासपुर । सोमवार की सुबह कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय के साथ पीछे बैठकर कलेक्टर डा. संजय अलंग ने स्कूटी से घूमकर शहर सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। इस दौरान जहां बस स्टैंड व मगरपारा चैक पर कचरा मिलने पर लायंस प्राइवेट सर्विसेज को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए, वहीं कचरा फैलाने जुर्माना भी ठोका गया।
कलेक्टर डा. संजय अलंग व कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय स्कूटी से लिंक रोड होते हुए सी.एम.डी. चैक से पुराना बस स्टेण्ड पहुंचे। यहां बस स्टैंड के सामने तरफ सफाई की जा रही थी। इस दौरान कर्मचारियों को समय पर सफाई करने और कचरा उठाने के निर्देश दिए गए। इसके बाद बस स्टैंड परिसर का निरीक्षण किया गया। परिसर में बड़ी मात्रा में प्लास्टिक पानी पाउच और अन्य कचरा पड़ा था। इस पर जोन कमिश्नर और लायंस सर्विसेज के अधिकारी को कलेक्टर डा. अलंग द्वारा जमकर फटकार लगाई गई। स्वच्छता नोडल अधिकारी सहायक अभियंता अनुपम तिवारी को लायंस सर्विसेज को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए। इसके बाद अग्रसेन चैक होते हुए मगरपारा चैक पहुंचे। मगरपारा चैक पर सडक़ किनारे ही कचरा डंप था। इस पर भी संबंधित जोन कमिश्नर पर कलेक्टर डा. अलंग द्वारा नाराजगी जाहिर कर समय पर कचरा उठाने के निर्देश दिए गए। इस दौरान समय पर कचरा नहीं उठाने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी कलेक्टर डा. अलंग ने जोन कमिश्नर को दी। मोके पर कलेक्टर डा. अलंग ने नागरिकों से डोर टू डोर वाहन समय पर आने और उन्हें कचरा देने संबंधित बातचीत की। इस पर नागरिकों ने वाहन के आने और कचरा वाहन में ही देने की बात कही। इस दौरान नागरिकों ने सुलभ काम्पलेक्स का गंदा पानी सडक़ पर बहने की शिकायत की। इस पर कलेक्टर डा. अलंग ने जोन कमिश्नर आरएस चैहान व संबंधित प्रभारी स्वच्छता निरीक्षक विजय पवार को निर्देश दिए कि सुलभ शौचालय की पाइप आज ही बदलकर व्यक्तिगत तौर पर स्वयं उपस्थित होकर शाम तक फोटोग्राफ सहित रिपोर्ट करें। इसके बाद भारतीय नगर चैक होते हुए व्यापार विहार रोड पहुंचे। यहां निर्माणाधीन स्मार्ट सडक़ का निरीक्षण किया गया। कार्य की प्रगति संतोषजनक नहीं होने पर संबंधित फर्म कल्याण टोल इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड के संचालक आलोक अग्रवाल ठेकेदार को फटकार लगाई। कार्य की प्रगति को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर डा. अलंग ने ठेकेदार को तत्काल संसाधन बढ़ाने के निर्देश दिए। इसके बाद श्रीकांत वर्मा मार्ग का निरीक्षण किया गया। इस दौरान यहां  कचरा फैलाने पर जुर्माना लगाने के निर्देश कलेक्टर डा. अलंग ने दिए। इसके बाद पुन: सीएमडी चैक, बस स्टैंड चैक होते हुए अग्रसेन चैक तक कलेक्टर डा. संजय अलंग और कमिश्नर प्रभाकर पाण्डेय द्वारा निरीक्षण किया गया। इस दौरान अधिकारियों को सतत निरीक्षण करने और समय पर कचरा उठाने के निर्देश दिए गए। निरीक्षण के दौरान अधीक्षण अभियंता जीएस ताम्रकार, उपायुक्त खजांची कुम्हार, जोन कमिश्नर डी.के.शर्मा, आर.एस.चैहान, स्वास्थ्य अधिकारी डा. ओंकार शर्मा, कार्यपालन अभियंता पी.के.पंचायती, सहायक अभियंता सुरेश बरूआ, अनुपम तिवारी और लायन सर्विसेस के प्रबंधक एस.के.सिंह उपस्थित थे।
जोन कमिश्नर करें सतत् निरीक्षण
निरीक्षण के दौरान कलेक्टर डा. संजय अलंग ने निगम के सभी जोन कमिश्नर को अपने-अपने क्षेत्रों में सतत् निरीक्षण करने के निर्देश दिए। इस दौरान कलेक्टर अलंग ने समय पर डस्टबीन से कचरा उठाने और सडक़ों की सफाई कराने की बात कही।
औचक निरीक्षण में मिली गंदगी तो होगी कड़ी कार्रवाई
कलेक्टर डा. अलंग ने इसी तरह शहर की सफाई व्यवस्था के लिए समय= पर औचक निरीक्षण करने की बात कही। निरीक्षण के दौरान गंदगी मिलने, कचरा डंप मिलने या सफाई संबंधित नागरिकों से शिकायत मिलने पर संबंधित जोन कमिश्नर और सफाई अधिकारी व कर्मचारियों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कलेक्टर डा. अलंग ने कही।
सक्षम नहीं होने पर ठेकेदार को करें ब्लैक लिस्टेड 
व्यापार विहार स्मार्ट सडक़ के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर डा. अलंग ने कार्य को त्वरित गति से कराने के लिए प्रतिदिवस का बार चार्ट बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने बार चार्ट अनुसार कार्य कराने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने ठेकेदार द्वारा इस कार्य के साथ और कितने कार्यो का ठेका लिया गया है और कार्य के हिसाब से ठेकेदार के पास उपलब्ध संसाधन का आंकलन कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए। कलेक्टर डा. अलंग ने ठेकेदार के कार्य करने के लिए सक्षम है या नहीं इसका भी आंकलन करने के निर्देश दिए यदि ठेकेदार के पास संसाधन की कमी है या ठेकेदार कार्य करने में सक्षम नहीं है तो इसे ब्लेक लिस्टेड करने संबंधित कार्यवाही के भी निर्देश दिए गए।