मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहन्ती ने कहा है कि कानून-व्यवस्था बनाए रखने, संपत्ति विरूपण के अंतर्गत अनधिकृत बैनर हटाने तथा मिलावट रोकने के लिए सजग रहें एवं त्वरित, दृढ़ और निष्पक्ष कार्यवाही करें। श्री मोहन्ती मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा प्रदेश के संभागायुक्तों और जिला कलेक्टरों को सम्बोधित कर रहे थे। मुख्य सचिव ने कानून-व्यवस्था, संपत्ति-विरूपण, मिलावट के विरूद्ध अभियान तथा लंबित राजस्व प्रकरणों और उपार्जन व्यवस्था की समीक्षा की।

मुख्य सचिव ने कहा कि जिला दण्डाधिकारी की अनुमति के बिना कोई भी होर्डिंग-बैनर नहीं लगने दिया जाये। ये निर्देश निष्पक्ष रूप से सभी होर्डिंग-बैनर पर लागू होंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश को स्वच्छ और सुन्दर बनाना है। अनधिकृत होर्डिंग-बैनर के विरूद्ध प्रभावी अभियान चलाया जाये, जिससे दूसरे राज्यों के लिए प्रदेश उदाहरण बन सके।

वीडियो कॉन्फ्रेंस में मिलावट के विरूद्ध अभियान को लगातार जारी रखने के निर्देश दिये गए। मुख्य सचिव ने देवास, राजगढ़, बालाघाट, सागर, सिवनी, खण्डवा, उमरिया, नीमच, अलीराजपुर, जबलपुर, ग्वालियर, डिण्डोरी के कलेक्टरों से संबंधित विषयों पर जानकारी ली।

वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रमुख सचिव गृह श्री एस.एन.मिश्रा, प्रमुख सचिव खादय एवं नागरिक आपूर्ति श्रीमती नीलम शमी राव, प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास श्री संजय दुबे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।