पशुपालन, मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विकास मंत्री श्री लाखन सिंह यादव ने आज मंत्रालय में विभागीय योजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि आधुनिक गौ-शाला निर्माण योजना को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जाये। श्री यादव ने दुग्ध उत्पादन बढ़ाने के लिये दुधारु पशुओं की नस्ल सुधार के कार्यों पर विशेष ध्यान देने को कहा। पशुपालन मंत्री ने पशुओं के लिये हरे चारे की समस्या को दूर करने के लिये चरनोई की भूमि पर हरा चारा उगाने की समझाइश दी।

अपर मुख्य सचिव श्री मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि प्रदेश में अत्याधुनिक गौ-शालाओं के निर्माण और विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन की दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है। उन्होंने बजट और अन्य आवश्यकताओं की बिन्दुवार जानकारी दी। श्री श्रीवास्तव ने बताया कि मंदिरों में गौ-शाला निर्माण का प्रस्ताव विचाराधीन हैं।