नई दिल्ली    भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच दूसरा टेस्ट मैच 10 अक्टूबर से पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में खेला जाएगा। विशाखापट्टनम में पहला मैच भारत ने 203 रनों के बड़े अंतर से जीता था। इस शानदार जीत के बाद टीम इंडिया अगले मैच में आत्मविश्वास के साथ उतरेगी। पुणे टेस्ट से पहले टीम इंडिया के गेंदबाजी कोच भारत अरुण ने कहा कि यदि किसी टीम को नंबर 1 बनना है तो उसे विकेट के अनुरूप अपने खेल को ढालना आना चाहिए।

भरत अरुण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ''विश्व की नंबर 1 टीम बनने के लिए किसी भी टीम को हर तरह की विकेट पर खेलने का अभ्यास होना चाहिए। आप कहीं भी खेलो, जैसी भी कंडिशन मिले आपको ऐसा लगे कि आप अपने घर पर ही खेल रहे हैं।''

अरुण ने कहा, ''यदि आप नंबर 1 टीम बनना चाहते हैं तो यह जरूरी है कि आपके गेंदबाज पिच के अनुरूप गेंदबाजी करें। तभी टीम सफल हो सकती है।'' पहले टेस्ट के पांचवें दिन तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने 5 विकेट लिए और भारत ने टीम से पहले ही 203 रनों से मैच जीत लिया।

गेंदबाजी कोच ने कहा, ''मोहम्मद शमी की शानदार गेंदबाजी ही भारत को मैच में वापस लाई। वरना मुझे लगता है कि उस कंडिशन में काफी मुश्किल हो सकता था।'' भारत के 502 रनों के जवाब में दक्षिण अफ्रीका ने 431 रन बनाए थे। डीन एल्गर और क्विंटन डिकॉक ने शतक लगाए, लेकिन दूसरी पारी में उनकी पूरी टीम 191 रनों पर ढेर हो गई।

उन्होंने कहा, ''मेरे हिसाब से दक्षिण अफ्रीका ने पहली पारी में शानदार बल्लेबाजी की। लेकिन दूसरी पारी में वे शमी को खेल नहीं पा रहे थे।'' अरुण ने कहा, “अगर आप देखेंगे कि कैसे डेन पीट ने नौवें और आखिरी विकेट के लिए बल्लेबाजी की...यह उनके जुझारूपन को दर्शाता है। शमी ने दमदार स्पैल किया जो हमें मैच में वापस ले आया, नहीं तो परिस्थितियों को देखते हुए मुकाबला मुश्किल हो सकता था। हमें पता था कि हमें नतीजा पाने के लिए बहुत मेहनत करनी होगी। उस तरह के विकेट पर संयम रखना पड़ता है।”

अरुण ने कहा, “हमारे गेंदबाज रिवर्स स्विंग में अच्छे हैं, क्योंकि जब वह घरेलू क्रिकेट खेलते हैं तो विकेट सपाट होती है। आउटफील्ड भी उतनी बेहतरीन नहीं होती। ऐसी परिस्थिति में सफल होने के लिए उन्हें गेंद को रिवर्स स्विंग कराना आना चाहिए और ऐसे घरेलू क्रिकेट हमारे गेंदबाजों की बहुत मदद करता है।” भारत की कोशिश इस मैच को जीतकर सीरीज में अजेय बढ़त बनाने की होगी। वहीं, दक्षिण अफ्रीका की टीम दूसरा टेस्ट जीतकर सीरीज को बराबरी पर लाना चाहेगी।