हांगकांग । हांगकांग में लोकतंत्र की मांग को लेकर चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच रविवार को जमकर हिंसा हुई। पुलिस और लोकतंत्र समर्थकों के बीच पत्थरबाजी हुई और दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर पेट्रोल बम फेंके। दस से ज्यादा प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले दागे। पुलिस ने बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया है। हिंसा को देखते हुए लोगों को अपने घरों में रहने की सलाह दी गई है। भारी बारिश के बावजूद दस हजार से ज्यादा लोगों ने विक्टोरिया हार्बर के दोनों तरफ विरोध प्रदर्शन में हिस्सा लिया। सड़कों को जाम करने के बाद चीनी झंडे जलाए गए। चेहरे पर मास्क लगाकर प्रदर्शन करने पर लगी रोक को धता बताते हुए लोकतंत्र समर्थकों ने रैली निकाली। नए आपातकालीन कानून के तहत पुलिस ने पहली बार लोगों को गिरफ्तार किया, जिन्हें बाद में बसों में ले जाया गया। दो दिन पहले शुक्रवार को प्रशासन ने चेहरा ढककर प्रदर्शन करने पर रोक लगा दी थी। इसके लिए उन औपनिवेशिक कानूनों का सहारा लिया, जिनका इस्तेमाल पिछले आधी सदी में नहीं हुआ था। इसके बाद से प्रदर्शन और तेज हो गया है। शनिवार को भी हजारों लोगों ने रैली में हिस्सा लिया था। शुक्रवार रात शुरू हुआ प्रदर्शन तीसरे दिन रविवार को भी जारी रहा। शनिवार को बाजार, दुकानें और मॉल बंद थे। सार्वजनिक परिवहन खासकर रेल सेवा बुरी तरह प्रभावित हुई। हालांकि, रविवार को आधे से ज्यादा सब-वे स्टेशन और मॉल खुल गए।