मुंबई: शिवसेना (shiv sena) प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने सामना को दिए एक इंटरव्यू में कहा है कि वह एक शिवसैनिक को मुख्यमंत्री बना के रहेंगे. इस इंटरव्यू में उद्धव ने बीजेपी (bjp) के साथ गठबंधन, अपने बेटे आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) के चुनाव लड़ने से मुद्दों पर खुलकर बात की. 

उद्धव ठाकरे ने कहा, 'आदित्य ठाकरे चुनाव लड़ने रहे हैं इसका यह मतलब नहीं कि मैं चुप बैठ जाऊंगा. मैं राजनीति से संन्यास नहीं लूंगा. शिवसेना प्रमुख (बाला साहेब ठाकरे) को दिया अपना वचन पूरा करूंगा. मैंने उन्हें वचन दिया था कि एक शिवसैनिक को मुख्यमंत्री बनाकर रहूंगा. जब तक यह नहीं हो जाता है मैं चुप नहीं बैठूंगा. 

उद्धव ठाकरे ने कहा कि पिछले 5 वर्षों से हम सत्ता में हैं. सत्ता में रहते हुए भी हम हमेशा जनता की आवाज बने. अन्याय के खिलाफ आवाज उठाते रहे. न्याय के लिए लड़ते रहे.

बीजेपी के गठबंधन करने पर 125 सीटें मिलने पर उद्धव ने कहा, 'गठबंधन में कुछ हासिल करने के लिए कुछ गंवाना भी पड़ता है. लेकिन आखिर में परिणाम देखा जाता है, हमें सत्ता हमें चाहिए ही. हां, मैंने सत्ता के लिए ही गठबंधन किया इसमें छुपाने जैसा कुछ नहीं है. ये सत्ता रहेगी तो उन 164 निर्वाचन क्षेत्रों में शिवसेना के कार्यकर्ताओं को भी मैं कुछ-न-कुछ दे सकता हूं इसलिए मैंने गठबंधन किया की. बता दें बीजेपी 164 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.