वाशिंगटन,जम्मू-कश्मीर मसले पर भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनातनी के बीच एक बार फिर से विदेश मंत्री एस जयशंकर का बयान आया है। अमेरिका के तीन दिवसीय दौरे पर गए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर का विकास सुनिश्चित होने पर इस प्रांत में अशांति फैलाने की पाकिस्तान की योजनाएं विफल हो जाएंगी। एस जयशंकर ने बुधवार को वाशिंगटन में कहा कि जम्मू-कश्मीर के कुछ लोगों और सीमा पार के 'निहित स्वार्थ' के कारण मोदी सरकार की नई पहले के खिलाफ कड़ी प्रतिक्रियाएं हुई है। 

विदेश मंत्री ने कहा, “जो प्रतिक्रियाएं हुई हैं, वह 70 साल से अधिक समय के निहित स्वार्थ के कारण हुई हैं। यह स्थानीय और सीमा पार के निहित स्वार्थ हैं, लेकिन हम जम्मू-कश्मीर के विकास का प्रबंध कर रहे हैं। आप जानते हैं कि पाकिस्तान ने पिछले 70 सालों से इसे बबार्द करने की योजनाएं बनायी हैं।”

गौरतलब है कि 5 अगस्त को भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटा दिया था। इसके साथ ही राज्य को कश्मीर और लद्दाख के रूप में दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया था, जिसके बाद से ही पाकिस्तान की बौखलाहट जारी है। कश्मीर में शांति व्यवस्था कायम रखने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध पर पाकिस्तान लगातार आवाज बुलंद  कर रहा है, मगर उसकी नापाक कोशिशें विफल हो जा रही हैं।