नई दिल्ली । मारुति सुजुकी इंडिया को 2019-20 की पहली छमाही की तुलना में अगले कुछ महीनों में बेहतर बिक्री की उम्मीद है। कंपनी को सरकार की ओर से जीएसटी दरों समेत कई अन्य नीतिगत फैसलों को स्पष्ट किए जाने और खरीफ की फसल अच्छी रहने के अनुमानों से बाजार में खरीदारी धारणा सुधरती दिखाई दे रही है। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी की बाजार हिस्सेदारी अप्रैल-अगस्त में 50 प्रतिशत से भी नीचे चली गई है। कंपनी को एस-प्रैसो को बाजार में उतारने, त्यौहारी मांग, और ग्रामीण मांग सुधरने से बिक्री बेहतर होने की उम्मीद है। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक केनिची आयुकावा ने कहा यह कहना मुश्किल है कि क्या बिक्री में सुधार होगा। 
हम ज्यादा संख्या में वाहन बेचने की कोशिश करेंगे, यह बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि शुरुआती छह महीनों में मांग बहुत नीचे रही है। हमें मांग सुधरने की उम्मीद है, लेकिन इसमें समय लगेगा। उन्होंने कहा अगस्त की तुलना में सितंबर में बिक्री अच्छी रही है और अब उन्हें अक्टूबर में इससे ज्यादा अच्छी बिक्री की उम्मीद है।