दंतेवाड़ा,छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) विधानसभा के दंतेवाड़ा (Dantewada) सीट पर हो रहे उपचुनाव (By-Poll) में लोगों का उत्साह देखने को मिल रहा है. सोमवार को सुबह 7 बजे से मतदान शुरू होने के साथ ही बड़ी संख्या में मतदाता पोलिंग बूथ (Polling Booth) में पहुंचने लगे. कई पोलिंग बूथ पर मततदाताओं की लंबी लाइन लगी है. लोकतंत्र (Democracy) के इस पर्व में अपने अधिकार का प्रयोग करने में वोटर्स (Voters) की भी जागरुकता देखने को मिल रही है. इसके तहत ही उन इलाकों से वोटर्स भी पोलिंग बूथ तक पहुंच रहे हैं, जहां आने जाने के लिए सड़क तक नहीं है.
दंतेवाड़ा (Dantewada) के मतदान केन्द्र क्रमांक 4 चेरपाल (Cherpal) और मतदान केन्द्र क्रमांक 6 पाहुरनार में मतदाता इन्द्रावती नदी (Indrawati River) पार कर पहुंचे हैं. इन्द्रावती नदी किनारे बसे छिंदनार व अन्य गांव कस्बों के मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने पहुंच रहे हैं. नगर सेना के जवानों ने इन मतदाताओं (Voters) को नदी पार कराने में मदद दी. प्रशासन ने इन गांवों के मतदाताओं के लिए नदी पार कराने के लिए मोटर बोट का इंतजाम किया है. बता दें कि नक्सल प्रभावित इलाका होने के कारण यहां सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक मतदान की समय सीमा निर्धारित की गई है. सुबह 9 बजे तक 11.71 प्रतिशत मतदान हो चुका था.
बता दें कि दंतेवाड़ा विधानसभा क्षेत्र में आज हो रहे उप चुनाव के तहत फरसपाल समेत कुछ अन्य मतदान केन्द्रों में ईवीएम की खराबी के कारण मतदान देर से शुरू हुआ. शिकायत के बाद वहां मशीनों की खराबी को दूर किया गया. इसके बाद वहां कुछ देर बाद मतदान शुरू हो सका. निर्वाचन आयोग का दावा है कि साढ़े 8 बजे तक यहां सामान्य तरह से मतदान शुरू हो चुका था. दंतेवाड़ा के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी टोपेश्वर वर्मा ने अपनी पत्नी के साथ मतदान केंद्र में पहुंचकर मतदान किया.