पोषक तत्वों से भरपूर होता है शरीफा। खासतौर पर महिलाओं को इसे अपने आहार में अवश्य शामिल करना चाहिए। यह स्वादिष्ट होने के साथ ही सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। महिलाओं के लिए किस तरह से फायदेमंद है यह फल, आइए जानें
शरीफा कई गुणों की खान  है। इसमें विटामिन सी जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट्स भरपूर होते हैं, जो हमारे शरीर को मुक्त कणों या फ्री रेडिकल्स से लड़ने में मदद करते हैं। यह पोटैशियम और मैग्नीशियम से भरपूर है, जो हृदय रोग से बचाव में सहायक है। इतना ही नहीं, यह हमारे रक्तचाप को भी नियंत्रित करता है। शरीफा में मौजूद विटामिन ए, शरीर को स्वस्थ रखता है। यह फल आंखों के लिए भी बहुत अच्छा माना जाता है और अपच की समस्या को ठीक करता है। पोषक तत्वों से भरपूर इस फल को अपने आहार में शामिल करना महत्वपूर्ण है। यह स्वादिष्ट भी बहुत है। आमतौर पर स्मूदी, शेक या आइसक्रीम के रूप में इसका सेवन किया जा सकता है और इसे खाते हुए भी सेहत संबंधी कई फायदे उठाए जा सकते हैं।
गर्भावस्था में लाभदायक
शरीफा का गर्भावस्था के दौरान सेवन भ्रूण के मस्तिष्क, दिमाग और प्रतिरक्षा प्रणाली को प्रभावी ढंग से विकसित करने में मदद करता है। इसका नियमित सेवन गर्भावस्था के दौरान गर्भपात के जोखिम को भी कम करता है और प्रसव के दौरान प्रसव पीड़ा की तीव्रता को कम करने में सहायक है।
हार्ट अटैक को रोकता है
शरीफे में मैग्नीशियम की मात्रा हृदयाघात से बचाने में मदद करती है, साथ ही इसके सेवन से मांसपेशियों को आराम भी मिलता है। इसमें मौजूद विटामिन बी 6 होमोसिस्टीन संग्रह को रोकने में मदद करता है, जिससे हृदय रोग जैसा जोखिम कम होता है।
प्रतिरक्षा प्रणाली रहे दुरुस्त
यह प्रतिरक्षा-प्रणाली को दुरुस्त करता है और शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है। इसके लिए रोज एक शरीफा खाएं।
ऊर्जा के स्तर में बढ़ोतरी
यह फल ऊर्जा का उत्कृष्ट स्रोत है। यह न सिर्फ थकान, सुस्ती और फटीग जैसी स्थितियों में लाभदायक है, बल्कि मांसपेशियों की कमजोरी को भी खत्म करने में मददगार है। बस रोज एक शरीफा खाएं, थकान से राहत पाएं और शरीर में चुस्ती-फुर्ती जगाएं।  
डायबिटीज और ब्लडपे्रशर रहे नियंत्रित
यह टाइप -2 डायबिटीज के जोखिम को कम करने में कारगर है। शरीफा पोटैशियम और मैग्नीशियम का भी अच्छा स्रोत है, जिससे रक्तचाप भी नियंत्रित रहता है। अगर किसी का ब्लड प्रेशर कम या अधिक रहता है तो उसे नियमित रूप से एक शरीफा रोज खाना चाहिए। इससे रक्तचाप संतुलित बना रहेगा।