गृहमंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने एनआरसी को लेकर बयान दिया है। अमित शाह ने रांची में बुधवार को कहा कि एनआरसी को पूरे देश में लागू किया जाना चाहिए। दुनिया में जब कोई भी देश अपने यहां किसी बाहरी नागरिक को नहीं घुसने देता तो भारत में बाहरी लोग कैसे रह सकते हैं।
अमित शाह ने आगे कहा कि जो लोग एनआरसी से बाहर हुए हैं उन्हें अपनी नागरिकता साबित करने के लिए मौका दिया जाएगा। एनआरसी का फैसले को ट्रिब्यूनल तय करेगा। जिनको दिक्कत है तो वे ट्रिब्यूनल के पास जाकर अपील कर सकते हैं। 

उन्होंने कहा कि जो लोग अपनी नागरिकता साबित नहीं कर पाएंगे उन्हें एक कानूनी प्रक्रिया के तहत देश से बाहर किया जाएगा। देश के नागरिकों का एक रजिस्टर होना समय की जरूरत है। देश के लोगों के लिए यह पूरे देशभर में लागू किया जाना चाहिए। 

अमित शाह ने कहा कि उन्होंने अपने चुनावी घोषणा पत्र में भी एनआरसी लागू करने का वादा किया था जिसे पूरा कर रहे हैं।