रायपुर। खाद्य एवं संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत आज कोरिया जिले के चिरमिरी स्थित मंगल भवन में आयोजित राशनकार्ड वितरण में शामिल हुए। इस मौके पर उन्होंने हितग्राहियों को नवीन राशन कार्ड प्रदान किया। श्री भगत ने बरतुंगा चिरमिरी में अर्जुन देव के पुराने शिलालेखों की देख-रेख और संरक्षण के लिए 15 लाख रूपए स्वीकृत करने की घोषणा की। उन्होंने राजधानी रायपुर के घासीदास संग्रहालय में संचालित गढ़कलेवा के तर्ज पर चिरमिरी में भी गढ़कलेवा शुरू किया जाएगा। जहां पर क्षेत्र के लोग छत्तीसगढ़ी व्यंजन का स्वाद ले सकेंगे। श्री भगत ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में नई-नई जनकल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई है। प्रदेश में बीपीएल के साथ-साथ एपीएल के परिवारों को भी चांवल देने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए सभी को नवीन राशन कार्ड बनाकर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सभी को समान रूप से विकास का अवसर मिलेगा। श्री भगत ने अधिकारियों को सभी हितग्राहियों को समय सीमा में राशन कार्ड वितरण करने के निर्देश दिए। कार्यक्रम को सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं विधायक गुलाब कमरो, मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल, नगर पालिक निगम चिरमिरी के महापौर के. डोमरू रेड्डी ने भी सम्बोधित किया। इस मौके पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कलावती मरकाम सहित बड़ी संख्या मंे जनप्रतिनिधि और नागरिक मौजूद थे।