रायपुर। महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती के अवसर पर 2 अक्टूबर से साल भर आयोजित होने वाले कार्यांजली कार्यक्रमों में तृतीय लिंग समुदाय के लोगों की सहभागिता ली जाएगी। इस दौरान आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों और कार्यशालाओं में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होगी। इसके साथ ही सभी जिलों में जनजागरूकता और लिंग संवेदनशीलता के लिए तृतीय लिंग के व्यक्तियों के सहयोग से कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा। समाज कल्याण विभाग मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया की अध्यक्षता में आज मंत्रालय में आयोजित तृतीय लिंग कल्याण बोर्ड की बैठक में यह निर्णय लिया गया।
श्रीमती भेंड़िया ने तृतीय लिंग के व्यक्तियों को मुख्य धारा में लाने के लिए सभी विभागों से संवेदनशीलता और समन्वय से काम करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि तृतीय लिंग के लोगों की शिक्षा, रोजगार, चिकित्सा और पुनर्वास के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जाएं। तृतीय लिंग समुदाय के लोगों के डेटा संधारण के लिए आवश्यक कार्यवाही की जाए जिससे वास्तविक व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ पहुंचाया जा सके। उन्होंने तृतीय लिंग कल्याण बोर्ड की 6 मार्च 2018 को आयोजित बैठक में लिए गए निर्णयों के कार्यान्वयन की समीक्षा की और आवश्यक दिश निर्देश दिये। श्रीमती भेंड़िया ने तृतीय लिंग के लोगों को आधुनिक तकनीक के माध्यम से लिंग प्रत्यारोपण की सुविधा प्रदान करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के सहयोग कसे आवश्यक प्रस्ताव बनाने के लिए कहा। बैठक में विभिन्न विभागों में तृतीय लिंग के लोगों से संबंधित कार्यवाही को गति देने के लिए हर तीन महीने में नोडल अधिकारियों की बैठक आयोजित करने पर स्वीकृति दी गई।
बैठक में तृतीय लिंग कल्याण बोर्ड,जिला स्तरीय समितियों में अशासकीय सदस्य के मनोनयन,असंगठित मजदूरों के रूप में पंजीयन,स्वरोजगार के लिए ऋण स्वीकृति,तृतीय लिंग के व्यक्तियों को आधुनिक तकनीक से लिंग प्रत्यारोपण शल्य क्रिया की सुविधा और उनकी दैनिक स्थिति को सुधारने,समाज में उचित स्थान दिलाने एवं शासकीय योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए विभिन्न विभागों के समन्वय से कार्ययोजना को आगे बढ़ाने के लिए चर्चा की गई। बैठक में विभिन्न विभागों के समन्वय से तृतीय लिंग समुदाय के लोगों के लिए स्पोट्स मीट के आयोजन, कौशल विकास,प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकानों के आवंटन और मनरेगा और विभिन्न कार्यक्रमों के तहत रोजगार के अवसर बढ़ाने का निर्णय लिया गया।
इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग के सचिव ए. कुलभूषण टोप्पो, सामान्य प्रशासन विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, उच्च शिक्षा, विधि, गृह, अंत्याव्यसायी, कौशल विकास, जनशक्ति नियोजन, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार, नगरीय प्रशासन, जनसम्पर्क विभाग के अधिकारियों सहित तृतीय लिंग समुदाय की प्रतिनिधि सुश्री विद्या राजपूत, सुश्री कंचन शेन्द्रे और रवीना बरिहा उपस्थित थीं।