रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज विश्व साक्षरता दिवस के अवसर पर रेडियो वार्ता ’लोकवाणी’ की दूसरी कड़ी ’शिक्षा और युवा’ विषय पर प्रदेश की जनता से रू-ब-रू हुए। शारदा चौक स्थित जयराम काम्पलेक्स परिसर में स्थानीय लोगों द्वारा लोकवाणी कार्यक्रम को सुना गया।  लोकवाणी श्रोताओं में सर्वश्री नगर निगम रायपुर के एम.आई.सी. सदस्य श्री विमल गुप्ता ने बताया कि राज्य के मुखिया के द्वारा शिक्षा के क्षेत्र और युवाओं को स्थानीय रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में जो पहल की जा रही है वो सराहनीय है। लोकवाणी कार्यक्रम को शारदा चौक पर बड़ी संख्या में आम लोगों द्वारा सुना गया। इन श्रोताओं में वार्ड के श्री अरूण चन्दसोरिया ने बताया कि राज्य में शिक्षा के अधिकार कानून का पूर्ण क्रियान्वयन कर शिक्षित छत्तीसगढ़ बनाने का जो संकल्प लिया गया है उस ओर बढ़ाया गया यह सराहनीय कदम है। उन्होंने बताया कि सरकार के द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में शिक्षा के स्तर को उठाने गुणवत्तापूर्ण शिक्षण व्यवस्था के तहत स्कूलों में शिक्षकों की नई भर्ती का निर्णय, आज के आधुनिक युग की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए डिजिटल शिक्षा की ओर अग्रसर होना, स्थानीय लोगों को औद्योगिक क्षेत्रों में रोजगार में प्राथमिकता दिलाना जैसे महत्वपूर्ण कदम है।
अधिवक्ता सैय्यद हुसैन ने बताया कि राज्य में शिक्षकों की नई भर्ती से शिक्षा का स्तर ऊपर उठेगा। उन्होंने बताया कि हमारे बुजुर्गों ने समृद्ध देश-युवा देश की जो कल्पना की थी वह आज खरी उतरती नजर आ रही है। उन्होंने कहा कि आज पूरे भारतवर्ष में छत्तीसगढ़ राज्य की योजनाओं को अन्य राज्यों में काफी सराहना मिल रही है और इन योजनाओं को अपनाया जा रहा है। यह हम सब छत्तीसगढ़ वासियों के लिए गर्व का विषय है। इसका सारा श्रेय राज्य के मुखिया भूपेश बघेल को जाता है। इस अवसर पर श्रोताओं में रमेश साहू, संदीप सिरमौर, अमित शर्मा, राजेश बघेल, गजेन्द्र साहू, दिलशाद हुसैन, अमरजीत सिहं अजमानी, रघुवीर सिंह, शेख अनीष, मनीष साहू, सजर खान सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।