शिवपुरी जिले के बदरवास जनपद के सुमेला गांव का है, यहां रहने वाले शिवा केवट  जब भी घर से बाहर या अपने काम पर निकलते है तो  कौव्वे अपनी खीस निकलने के लिए उनके सिर में चोंच मारते हैंI चोंच मार-मारकर कर उनके सिर को कौव्वों ने चोटिल कर दिया हैI शिवा का कहना है कि  इसलिए अब वह रात के अंधेरे में घर से निकलता हैI

शिवा का कहना है कि करीब 3 साल पहले वह अपने गांव से बदरवास आ रहे थेI तब उन्हें जाली में फंसा एक कौआ का बच्चा दिखाI उन्होंने उसे निकालने की कोशिश की तो वह मर गयाI उन्होंने उसी दिन से ये घटना जारी हैउन्होंने बताया कि पहले तो समझ नहीं आया कि ऐसा क्यों हो रहा है, लेकिन फिर उन्हें याद आया कि एक दिन कौआ का बच्चा जाली से निकालते समय मर गया था, उसी दिन से ये मुझे परेशान कर रहे हैंI