कटनी. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के कटनी जिले (Katni District) के एनकेजे थाना प्रभारी पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के नगर प्रचारक गोविंद ठाकुर के एनकेजे थाने में कपड़े उतारकर जूतों से पिटाई (Beaten) का आरोप लगा है. जैसे ही बीजेपी (BJP) कार्यकर्ताओं, विधायक और महापौर (MLA and Mayor) को इस मामले की जानकारी मिली वो थाने (Police Station) पहुंचकर धरने पर बैठ गए. इस सभी ने एनकेजे थाना प्रभारी अनिल काकड़े समेत अन्य पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की मांग की. मामले के तूल पकड़ने के बाद पीड़ित गोविंद ठाकुर की शिकायत पर मामला दर्ज (Case Registered) कर थाना प्रभारी काकड़े को लाइन हाजिर (Line Attached) कर दिया गया है.

बातचीत के दौरान नोकझोंक के बाद संघ प्रचारक को लाए थाने

प्राप्त जानकारी के अनुसार, आरएसएस के नगर प्रचार गोविंद ठाकुर तिलक कॉलेज के पास साइकिल से घूम रहे थे और कुछ छात्रों से बात कर रहे थे. इस दौरान एनकेजे के थाना प्रभारी गोविंद ठाकुर कुछ पुलिसकर्मियों के साथ गश्त लगा रहे थे. गोविंद ठाकुर और थाना प्रभारी अनिल काकड़े के बीच किसी मुद्दे पर बहस शुरू हो गई. बाद में नौबत नोकझोंक तक पहुंच गई. उसके बाद थाना प्रभारी काकड़े गोविंद

ठाकुर को थाने ले गए. बाद में थानेदार पर आरोप लगा कि गोविंद के साथ थाने में काफी मारपीट की गई.
महापौर और विधायक के धरने के बाद मिला जांच का आश्वासन 
जैसे ही बीजेपी कार्यकर्ताओं को इस बात की जानकारी मिली वो धरना देने थाने पहुंच गए. कार्यकर्ताओं के साथ विधायक संदीप जायसवाल और महापौर शांशक श्रीवास्तव भी धरने पर बैठ गए. संघ के कार्यकर्ता के मुताबिक पुलिस ने गंभीरता दिखाते हुए पीड़ित पक्ष की शिकायत थाने में दर्ज कर ली है. साथ ही थाना प्रभारी अनिल काकड़े को भी लाइन हाजिर कर दिया गया है. मामले की जांच उच्च अधिकारियों की निगरानी में कराए जाने की भी बात कही गई है.