रायगढ़
इंफ्रास्ट्रक्चर के काम कम या बंद होने के कारण लोहे का बाजार मंदी की मार झेल रहा है। इसका असर जिले के उद्योगों पर पड़ रहा है। पूंजीपथरा इंडस्ट्रियल पार्क में स्थापित 35 में 20 से ज्यादा उद्योग बंद हो चुके हैं। जितनी ईकाइयों चल रही हैं वे नुकसान में उत्पादन कर रही हैं। इसका असर औद्योगिक जिले की अर्थव्यवस्था और रोजगार पर पड़ रहा है। इंडस्ट्रियल हब कहा जाने वाला जिला पिछले कुछ सालों से लगातार बदहाली झेल रहा है। कई उद्योग बंद हुए हैं।


    उद्योग संगठन से जुड़े लोगों कहना हैं कि उद्योगों को आयरन ओर, कोयला समेत जैसे रॉ मेटेरियल्स ओडिशा और दूसरे राज्यों से मंगाने पड़ते हैं। इससे प्रोडक्शन कॉस्ट तो ज्यादा है ही, उत्पादन के बाद उठाव नहीं होने से नुकसान हो रहा है। राज्य सरकार दो माह बाद नवंबर में उद्योगों के लिए नई नीति ला रही है, जिसमें उद्योगपतियों से सुझाव मांगे जा रहे हैं। उद्योगपतियों का कहना है कि नीति से कुछ मदद मिली तो हालात सुधर सकते हैं।