नई दिल्ली कांग्रेस पार्टी के भीतर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ वाले कुछ बयानों को लेकर पिछले कई दिनों से रार मची हुई है। अपनी पार्टी में ही घिरने के बाद अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने सफाई दी है। उन्होंने बुधवार को कहा कि वह उन खबरों से व्यथित हो जाते हैं जिनमें कहा जाता है कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की है। हाल ही में अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश की एक टिप्पणी का समर्थन करने के बाद थरूर से कांग्रेस की केरल इकाई ने जवाब मांगा था। दरअसल, रमेश ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हमेशा खलनायक की तरह पेश करने से कुछ हासिल नहीं होगा।

थरूर ने दिल्ली विश्वविद्यालय में एनएसयूआई की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘मुझे इसका एक उदाहरण दीजिए कि मैंने कब समर्थन किया है। मीडिया में आई खबरों की समस्या यह है कि ये पूरी तरह निराधार होती हैं। निश्चित तौर पर जब मीडिया यह कहता है कि मैंने मोदी की तारीफ की है तो इससे मैं व्यथित हो जाता हूं।’

रमेश के बयान के समर्थन को लेकर की गई अपनी टिप्पणी को याद करते हुए थरूर ने कहा, ‘मैंने यह कहा था कि हमारा सिद्धांत यह समझने का होना चाहिए कि लोगों ने नरेंद्र मोदी के लिए वोट क्यों किया। हमें 2014 में भी 19 फीसदी वोट मिला और 2019 में भी 19 फीसदी वोट मिला। मोदी के नेतृत्व में बीजेपी को 2014 में 31 फीसदी वोट मिला था, जबकि 2019 में 37 फीसदी वोट मिले।’

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को उन लोगों को फिर से अपनी ओर खींचना होगा जो किन्हीं कारणों से हमारे बजाय बीजेपी को वोट करने लगे हैं।