इन्दौर । मध्यप्रदेश स्टेट वेटलैंड अथॉरिटी के मेंबर सेक्रेट्री एवं ऐप्‍को के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री जितेंद्र राजे द्वारा बताया गया कि वेटलैंड अथॉरिटी के द्वारा वेटलैंड कंजर्वेशन एवं मैनेजमेंट रूल्स-2017 के अंतर्गत पूरे देश में चिन्हित 100 तालाबों में से एक इन्दौर जिले में सिरपुर तालाब को चयनित किया गया है।
इन्दौर जिले में चयनित तालाब सिरपुर का ब्रीफ डॉक्यूमेंट बनाने के संबंध में आज कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में संक्षेप डॉक्यूमेंट बनाने के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई, जिसमें सिरपुर तालाब का वेटलैंड के रूप में सीमांकन एवं सीमा का निर्धारण,  डिजिटल में तैयार किए जाने, प्रभाव क्षेत्र एवं भूमि उपयोग की जानकारी, पर्यावरण प्रभाव क्षेत्र पूर्व अधिकार एवं प्राथमिकताएं, क्षेत्र विशेष में अनुमति दिए जाने योग्य गतिविधियों का चिन्हांकन किया जाना है। ब्रीफ डॉक्यूमेंट तैयार हो जाने के पश्चात वेटलैंड अथॉरिटी द्वारा राज्य शासन को अपनी अनुशंसा प्रेषित की जाएगी।राज्य शासन द्वारा अनुशंसा एवं आपत्तियों पर विचारण करते हुए वेटलैंड का नोटिफिकेशन शासकीय राजपत्र में किया जाएगा। बैठक में कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव, आयुक्त नगर निगम श्री आशीष सिंह, अपर कलेक्टर एवं भू प्रबंधन अधिकारी श्री अजयदेव शर्मा, विशेषज्ञ श्री प्रतीक वसुधा, नईदिल्ली के श्री कृष्णा स्वामी श्रीनिवास सहित नगर निगम और अन्‍य संबंधित विभागों के अधिकारी एवं एप्‍को की टीम के अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि सिरपुर तालाब के अलावा भी नगर निगम क्षेत्र में आने वाले सभी तालाबों का ब्रीफ डॉक्यूमेंट भविष्य में तैयार किया जाए। इसके लिए सीमांकन की कार्रवाई तथा डिजिटल मैप तैयार किए जाने की कार्रवाई की जाए। जिला स्तर पर विभागों के मध्य समन्वय की कार्रवाई हेतु श्री अजय देव शर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। बैठक में उपस्थित एसडीएम श्री राकेश शर्मा तथा अधीक्षक भू-अभिलेख को कलेक्टर ने निर्देश दिए कि त्वरित गति से इस संबंध में सीमांकन इत्यादि की कार्रवाई शेष तालाबों के संबंध में भी प्रारंभ की जाए एवं पूर्व में जो सीमांकन किया गया है उसको डिजिटली तैयार किया जाए।
बैठक में कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव ने निर्देश दिये कि पहले चरण में इन्दौर शहर के सभी तालाबों का सीमांकन और मार्किंग का कार्य अतिशीघ्र पूरा कर लिया जाये। बताया गया कि शहर में कुल 24 तालाब हैं। इनमें से 14 तालाबों का सीमांकन हो गया है। कलेक्टर ने शेष बचे सभी तालाबों के सीमांकन और मार्किंग के पश्चात शहर में स्थित सभी तालाबों के सीमांकन और मार्किंग की जानकारी पब्लिक डोमेन में सार्वजनिक करने के निर्देश भी दिये। बैठक में बताया गया कि इन्दौर का क्लाइमेट एक्शन प्लान जल्द ही तैयार होगा। इसमें जलवायु से जुड़ी गतिविधियां होंगी।