इस्लामाबाद : पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने स्पष्ट किया है कि अभी तक देश के हवाई क्षेत्र को भारत के लिए बंद करने पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है. डॉन समाचार ने यह जानकारी दी. बुधवार को नेशनल डेटाबेस एंड रजिस्ट्रेशन अथॉरिटी (नाड्रा) के दौरे पर उन्होंने पत्रकारों से इस मुद्दे के सभी रिपोर्टों को 'काल्पनिक' बताकर खारिज कर दिया.

कुरैशी ने कहा, "उचित विचार करने और परामर्श के बाद प्रत्येक स्वरूप और हर पहलू को देखने के बाद इस मुद्दे पर निर्णय लिया जाएगा." कुरैशी ने कहा कि प्रधानमंत्री इमरान खान का निर्णय अंतिम निर्णय होगा.

पाकिस्तान मीडिया की उन रिपोर्ट्स के बाद यह अटकलें और तेज हो गईं कि बुधवार को भारतीय नागरिक उड्डयन प्राधिकरण ने कराची जाने वाली सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों के लिए तीनों मार्गों को बंद करने के बाद देश के हवाई क्षेत्र को भारतीय उड़ानों के लिए बंद कर दिया गया है.
एक दिन पहले देश के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि भारत से यातायात के लिए पाकिस्तान अपने हवाई क्षेत्र को 'पूरी तरह से बंद' करने पर विचार कर रहा है.

फवाद चौधरी ने मंगलवार को ट्वीट किया था, "कैबिनेट की बैठक में भारत-अफगानिस्तान में व्यापार के लिए पाकिस्तान के भू-मार्गों के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध का सुझाव दिया गया था."