भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया को हरतालिका तीज व्रत रखा जाता है। इस बार 1 सितंबर को हरतालिका तीज व्रत है। पति की लंबी उम्र और अच्छे वर की चाहत रखने वाली महिलाएं हरतालिका तीज का व्रत रखती है। इस दिन महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं और भगवान शिव, माता पार्वती की बालू या मिट्टी की मूर्ति बनाकर पूजन करती हैं। इस दिन खुशहाल दांपत्य जीवन के लिए मां पार्वती को प्रसन्न करना चाहिए.. आइए जानें 10 उपाय....


1.चावल की खीर बनाकर मां पार्वती को भोग लगाएं। इसके बाद पति बैठकर खीर खाएं। पत्नी अगले दिन उउपवास खोलने पर खाएं।

2. 11 नवविवाहिताओं को सुहाग की पिटारी भेंट करें। इसमें पूरा 16 श्रृंगार होना चाहिए।

3 . 5 बुजुर्ग सुहागन को साड़ी और बिछिया दें। जोड़े से पैर छुएं।

4. सुबह जल्दी उठकर स्नान कर शिव-पार्वती के मंदिर जाएं। मंदिर में शिव-पार्वती को लाल गुलाब अर्पित करें।
5. भगवान शिव और नंदीगण को शहद चढ़ाएं।

6. माता पार्वती को चुनरी और नथ अपने हाथों से पहनाएं।

7. इस दिन पति शुभ मुहूर्त में पत्नी की अपने हाथों से मांग भरें। और बिछिया-पायल भी खुद पहनाएं। इससे पति-पत्नी में प्रेम प्रगाढ़ होता है।

8. हरतालिका तीज पर गणेश मंदिर में सूखे मालपुए अर्पित करने से भी दांपत्य जीवन में रस घुलता है।

9. इस दिन पत्नी अपने हाथों से पान का बीड़ा लगाकर शिव जी को चढ़ाएं और फिर पति को दें। इससे भी प्रेम रस बढ़ता है।

10. गुड़ के 11 लड्डू मां पार्वती को चढ़ाएं और अगले दिन श्री गणेश चतुर्थी पर गणेश स्थापना के बाद खाएं।

मनपसंद पति की कामना है तो इनमें से कुछ उपाय कुंवारी लड़की भी सुविधानुसार चुन सकती है।

इसके अतिरिक्त मां पार्वती चालीसा, पार्वती मंगल स्तोत्र, मां पार्वती के 108 नाम आदि का वाचन भी करना चाहिए।