ग्वालियर ।   आसपास के राज्यों से आकर वारदात करने वाले इंटरस्टेट अपराधी और मादक पदार्थों की तस्करी को रोकने के लिए एक बार फिर ग्वालियर पुलिस राजस्थान, उप्र पुलिस के साथ बॉर्डर मीटिंग करने जा रही है। २९ अगस्त को ग्वालियर, उप्र के आगरा, झांसी, ललितपुर और राजस्थान के धौलपुर, भरतपुर, बाड़ी के पुलिस अधिकारी बैठक करेंगे। बैठक की अध्यक्षता ग्वालियर जोन के आईजी राजाबाबू सिंह करेंगे। इस बार बॉर्डर मीटिंग में मादक पदार्थ, अवैध हथियार और ह्यूमर ट्रैफिकिंग  जैसे विषयों पर चर्चा होगी।  पिछले साल भी बॉर्डर मीटिंग हुई थी। उसमें ३ हजार बदमाशों की सूची का आदान-प्रदान हुआ, लेकिन जो निणNय बॉर्डर मीटिंग में लिए गए, उनमें से अधिकांश पर अमल नहीं हो पाया। इसके चलते इस बार आईजी राजाबाबू सिंह खुद इस बैठक का एजेंडा फाइनल कर बैठक में हुए निणNयों की मॉनीटरिंग करेंगे। आईजी ने बताया कि इस बार की बैठक में सबसे प्रमुख तीन पॉइंट रहेंगे। यह हैं मादक पदार्थ, अवैध हथियार और ह्यूमन ट्रैफिकिंग। अवैध मादक पदार्थ और अवैध हथियार पर कार्रवाई के लिए तीनों राज्यों के पुलिस अधिकारियों को मिलाकर एसआईटी बनाई जाएगी। मादक पदार्थ और अवैध हथियारों के तस्करों की जानकारी एक-दूसरे से शेयर की जाएगी।  बैठक में आईजी ग्वालियर रेंज के साथ आईजी चंबल, आईजी झांसी, एसएसपी झांसी, एसएसपी आगरा, एसपी भरतपुर, एसपी धौलपुर व अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहेंगे।