संयुक्त राष्ट्र । संयुक्त राष्ट्र संघ महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने अपील की है कि वह यहूदियों, मुसलमानों, ईसाइयों और अन्य धार्मिक समूहों के खिलाफ घृणा और अत्याचार की घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए प्रभावी कदम उठाए। गुतारेस ने धर्म एवं आस्था के कारण निशाना बनाए गए लोगों की याद में मनाए जाने वाले पहले अंतरराष्ट्रीय दिवस पर यह अपील की है। उन्होंने कहा यहूदियों की हत्या उनके उपासनागृहों में की गई, उनके कब्रिस्तानों को विरूपित किया गया। मुस्लिमों की हत्या मस्जिदों में हुई और उनके धार्मिक स्थलों में तोड़-फोड़ की गई। ईसाइयों की हत्या प्रार्थना करने के दौरान हुई और गिरजाघर जलाए गए। गुतारेस ने कहा यह दिवस अपनी शक्तियों के अनुसार इस तरह के हमलों को रोकने और पीड़ितों का समर्थन करने का अवसर देता है। उन्होंने इस तरह के हमलों के लिए जिम्मेदार लोगों को न्याय के दायरे में लाने की मांग की।