पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र का आज अंतिम संस्कार किया जाएगा. सुपौल के पैतृक गांव बलुआ में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जाएगी. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अंतिम संस्कार में शामिल होंगे. 

आपको बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र का निधन 19 अगस्त को हो गया. मंगलवार को उनके पार्थिव शरीर को दिल्ली से पटना लाया गया. मंगलवार को विधानसभा और विधान परिषद में भी जगन्नाथ मिश्र को श्रद्धांजलि दी गई. जगन्नाथ मिश्र तीन बार बिहार के मुख्यमंत्री बने. 

जगन्नाथ मिश्र 1975 से 1977,  1980 से 1983 और 1989 से 1990 तक बिहार के मुख्यमंत्री रहे. लंबे समय तक जगन्नाथ मिश्र सक्रिय राजनीति में रहे लेकिन पिछले काफी समय से वो राजनीति से दूर थे. 


जगन्नाथ मिश्र कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में शुमार रहे हैं. चारा घोटाले में भी जगन्नाथ मिश्र का नाम आया था और कोर्ट ने उन्हें दोषी करार दिया था. कोर्ट ने उनपर बीस हजार जुर्माना और चार साल की सजा भी सुनाई थी. हालांकि बाद में मेडिकल ग्राउंड पर उन्हें जमानत मिल गई थी.

जगन्नाथ मिश्र वैचारिक तौर पर कांग्रेसी ही रहे लेकिन बाद में वैचारिक टकराव के कारण वो शरद पवार की पार्टी एनसीपी में चले गए. इंदिरा गांधी के समय से लगातार वो सियासत में बहुत मजबूती से रहे. राजीव गांधी का दौर आया और पीवी नरसिम्हा राव से भी उनके अच्छे संबंध रहे.