लंदन: इंग्लैंड क्रिकेट टीम के सीमित ओवरों के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा है कि भविष्य में टीम का कप्तान बने रहना इस बात पर निर्भर करता है कि वह चोट से कैसे उबरते हैं. मोर्गन को विश्वकप में वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के दौरान चोट लग गई थी और फिर इसके बाद उन्हें मैदान छोड़कर बाहर जाना पड़ा था.

मोर्गन शुक्रवार को लॉर्ड्स मैदान में मौजूद थे, जहां इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच एशेज सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच जारी है.

मोर्गन से जब यह पूछा गया कि क्या वह 2021 में होने वाले टी-20 विश्व कप में इंग्लैंड के कप्तान बने रहेंगे, उन्होंने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो इसका जवाब देने के लिए मुझे और समय चाहिए. यह एक बड़ा फैसला है. विश्व कप के दौरान चोटिल होने के बाद इससे पूरी तरह से फिट होने के लिए मुझे समय चाहिए."


मोर्गन की कप्तानी में ही इंग्लैंड ने इस साल विश्व कप में न्यूजीलैंड को हराकर पहला विश्वकप जीता है.

विश्वकप के बाद मोर्गन टी-20 ब्लास्ट में मिडलसेक्स के लिए खेल रहे हैं. उन्होंने स्वीकार किया कि अगले साल भी टीम का नेतृत्व करना चाहते हैं.