नर्मदा घाटी विकास मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल ने बड़वानी जिले के राजघाट क्षेत्र में नर्मदा नदी का जल-स्तर बढ़ जाने के कारण करेंट लगने से 2 व्यक्तियों की मौत पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। मृतकों के परिवारों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से 2-2 लाख रुपये और बिजली विभाग की ओर से 4-4 लाख रुपये की सहायता राशि तत्काल स्वीकृत की गई है। श्री बघेल ने घटना की जाँच के आदेश देते हुए कहा है कि दोषी अधिकारियों पर तुरंत कार्यवाही की जायेगी।

डूब प्रभावितों से पुनर्वास केन्द्रों में रहने का आग्रह

मंत्री श्री बघेल ने डूब प्रभावित परिवारों से आग्रह किया है कि उनके गाँव के समीप बनाये गये पुनर्वास स्थलों पर पहुँचें, जिससे किसी अप्रिय घटना से बचा जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार डूब प्रभावित परिवारों के साथ है और उनके बचाव तथा सहयोग के लिये हमेशा तैयार है। श्री बघेल ने बचाव कार्य के दौरान मृत व्यक्तियों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की।

गुजरात सरकार से बाँध के गेट खोलने का आग्रह

नर्मदा घाटी विकास मंत्री श्री बघेल ने गुजरात सरकार से पुन: आग्रह किया है कि राजघाट बाँध का जल-स्तर बढ़ने के कारण मानवीय घटनाओं को रोकने के लिये बाँध के गेट खुलवायें। श्री बघेल ने बताया कि पूर्व में भी गुजरात सरकार से इस बारे में आग्रह किया गया था। इस बार प्रदेश में अति-वृष्टि से नर्मदा का जल-स्तर बढ़ने के कारण गुजरात स्थित बाँध के गेट खोलने का पुन: आग्रह किया गया है।