भोपाल। मध्यप्रदेश के बड़वानी जिला मुख्यालय से नाव के माध्यम से डूब प्रभावित क्षेत्र राजघाट जा रहे व्यक्तियों को करंट लगने के चलते दो लोगों की मृत्यु हो गई तथा तीन अन्य घायल हो गए।

बड़वानी पुलिस अधीक्षक डी आर टेनीवार के अनुसार आज नाव से कुछ सामान लेकर कुकरा (राजघाट) जा रहे व्यक्तियों को करंट लग गया। इसके चलते चिमन तथा संतोष की मृत्यु हो गई तथा तीन अन्य घायल हो गए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
उन्होंने कहा कि नर्मदा का जलस्तर बढ़ने के चलते खेतों में जा रहे विद्युत लाइनों के तार नीचे हो गए हैं और उनसे इन लोगों को करंट लग गया।
आक्रोशित डूब प्रभावितों ने प्रशासन पर नाव मुहैया न कराने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शित किया। नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेत्री मेधा पाटकर ने मांग की है कि सरदार सरोवर बांध से गेट खोल कर पानी छोड़ दिया जाए, जिससे बैक वाटर नहीं आएगा और जलस्तर नहीं बढ़ेगा। सरदार सरोवर बांध का जलस्तर बढ़ने के चलते जिला प्रशासन डूब प्रभावितों को सुरक्षित स्थानों पर ले जा रहा है।