नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से विशोष राज्य का दर्जा हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान द्वारा कश्मीर में माहौल खराब करने की लगातार कोशिशें की जा रही हैं. इन सबके बीच खबर आ रही है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) ने कश्मीर में पुलवामा आतंकी हमले जैसी ही घटना करने की योजना बनाई हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय एजेंसियों की खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि आईएसआई ने इस आतंकी हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) को दी है. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने इसके लिए जैश कमांडर असगर रऊफ से रावलपिंडी में मीटिंग की.
खुफिया रिपोर्ट की मानें तो, दो दिन पहले जैश-ए-मोहम्मद के 6-7 आतंकियों के समूह ने घाटी में घुसपैठ की है. बताया जा रहा है कि ये सभी आतंकी फिदायीन हमलावर हैं और सेना की वर्दी में हमले को अंजाम दे सकते हैं. रिपोर्ट के अनुसार, बताया जा रहा है कि कश्मीर में लगातार सुधर रहे हालातों को बिगाड़ने के लिए इस हमले की साजिश रची गई है. आईएसआई ने इन जैश आतंकियों को दक्षिणी कश्मीर में बड़े फिदायीन आतंकी हमले के लिए भेजा है. 

बताया जा रहा है कि जैश कमांडर असगर रऊफ से आईएसआई ने रावलपिंडी में कुछ दिन पहले ही इसे लेकर मीटिंग की थी. बताया जा रहा है कि आईएसआई ने मीटिंग में फिदायीन हमलावरों को तैयार करने को कहा था. पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने यह भी कहा था कि फिदायीन हमलों के दौरान स्थानीय नागरिकों के मारे जाने की चिंता मत करना.