संस्कृति मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ को वर्ष 1993 में व्याख्यान  माला प्रारंभ करने के लिये आज हिन्दी भवन में सम्मानित किया गया। समिति में डॉ. साधौ को इस व्याख्यानमाला की प्रणेता के रूप में यह सम्मान प्रदान किया। पावस व्याख्यानमाला में केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री प्रहलाद पटेल भी उपस्थित थे।

मंत्री डॉ. साधौ ने कहा कि राष्ट्र भाषा प्रचार समिति की गतिविधियाँ हिन्दी के विकास में महत्वपूर्ण रही हैं। मंत्री डॉ. साधौ और केन्द्रीय मंत्री श्री पटेल ने व्याख्यानमाला के संकलन 'संवाद हस्तक्षेप' के साथ ही दो अन्य कृतियों का भी विमोचन किया।

व्याख्यानमाला, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर म.प्र. राष्ट्रभाषा प्रचार समिति ने आयोजित की। इस वर्ष व्याख्यानमाला महात्मा गांधी के सिद्धातों पर केन्द्रित की गई है। समिति की ओर से अतिथियों का स्वागत किया गया।