बिलासपुर । अवागमन संसाधन के अभाव में बालिकाओं का शिक्षा स्तर मीडिल तक ही सीमित था। सरस्वती योजना के तहत स्कूली बालिकाओं को साइकिल मिलने पर बालिकाओं की शिक्षा स्तर में बहुत विस्तार हुआ है। उक्त बातें मेयर किशोर राय ने अंबेडकर स्कूल में आयोजित सरस्वती योजना के तहत साइकिल वितरण कार्यक्रम में कही। मेयर श्री राय ने कहा कि वर्तमान में बालक और बालिका समान हो गएं हैं। बालकों की शिक्षा जितनी जरूरी है, उतनी ही बालिकाओं की शिक्षा जरूरी है। देश के हर क्षेत्र में बालिकाएं भी बालकों से कंधा मिलकार चल रही हैं। ऐसे समय में बालिकाओं के शिक्षा के लिए सरस्वती साइकिल योजना मील का पत्थर साबित हुई है। इससे बालिकाओं की शिक्षा के बीच स्कूल की दूरी और अवागमन संसाधनों की कमी संबंधित बाधा नहीं आ रही है। अब हर वर्ग की बालिकाएं हायर सेकेंडरी से लेकर ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट तक पढ़ाई कर शहर, राज्य व देश-दुनियां में नाम रोशन कर रहीं है। इस अवसर पर मेयर किशोर राय ने साइकिल प्राप्त करने वाली बालिकाओं की उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें खूब बढऩे और शहर व राज्य का नाम देश में रोशन करने की बात कही। कार्यक्रम में स्कूल की 65 छात्राओं को सरस्तवी साइकिल योजना के तहत साइकिल वितरण किया गया। इस मौके पर तिलक नगर पार्षद प्रतिनिधि लक्ष्मी नारायण कश्यप, महेश चंद्रिकापुरे सहित स्कूल के स्टाफ उपस्थित थे।