लंदन: आईसीसी विश्व कप-2019 (Cricket World Cup 2019) का फाइनल मैच रोमांच के लिहाज से अद्भुत, अविश्‍वसनीय और अकल्‍पनीय रहा.  इसके साथ ही इस वर्ल्‍ड कप में ढेर सारे रिकॉर्ड बने. इस कड़ी में एक समय ऐसा लग रहा था कि विश्व कप के किसी एक संस्करण में सर्वाधिक रन बनाने का भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का 16 साल पुराना रिकॉर्ड टूट जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया.

फाइनल में न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन और इंग्लैंड के जोए रूट सचिन के बनाए रिकॉर्ड को तोड़ सकते थे. लेकिन, दोनों सस्ते में पवेलियन लौट गए और सचिन का रिकॉर्ड बदस्तूर कायम है. सचिन के नाम विश्व कप के किसी एक संस्करण में सबसे अधिक 673 रन बनाने का रिकॉर्ड है. इस रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए विलियम्सन को 126 रन और बनाने थे, लेकिन वह ऐतिहासिक लॉर्डस में इंग्लैंड के साथ आईसीसी विश्व कप-2019 के फाइनल में मात्र 30 रन ही बना सके.

विलियम्सन के नाम इस विश्व कप में 10 मैचों से 578 रन रहे. सचिन ने 2003 विश्व कप में 11 मैचों की 11 पारियों में 61.18 की औसत से कुल 673 रन बनाए थे. इसमें छह अर्धशतक और एक शतक शामिल था. सचिन का सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर 152 रन रहा था.


सचिन के रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए रूट को 125 रन और बनाने थे, लेकिन वह फाइनल में मात्र सात रन ही बना सके. रूट के नाम इस विश्व कप में 556 रन रहा. मौजूदा विश्व कप में भारत के रोहित शर्मा ने सबसे अधिक 648 रन बनाए.