इस्लामाबाद । भ्रष्टाचार के आरोपों में सजा काट रहे पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को सजा सुनाने वाले जज का एक वीडियों सामने आया है। नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने वीडियो क्लिप जारी कर दावा किया है कि नवाज शरीफ को अप्रत्यक्ष दबाव के तहत सजा दी गई थी। मरियम की ओर से जारी किए गए वीडियो में जज यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि वह पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को सजा सुनाना नहीं चाहते हैं, लेकिन उन्हें सजा सुनने के लिए मजबूर किया गया हैं। मरियम ने यह भी कहा कि 'सबूत' के बाद उनके पिता शरीफ को जेल में रखना एक अपराध होगा, उन्होंने आरोप लगाया कि नवाज शरीफ को सजा 'छिपे हुए चेहरों के अत्यधिक दबाव' में आकर दी गई। हालांकि मरियम के दावे को पीठासीन न्यायाधीश अरशद मलिक ने खारिज कर दिया है। 
मरियम ने कहा कि जिसके कारण उनके पिता को दोषी ठहरा उन्हें जेल की सजा हुई, उस मुकदमे के संबंध में संपूर्ण न्यायिक प्रक्रिया में गंभीर रूप से समझौता किया गया। उन्होंने वीडियों भी चलाया जिसके बारे में उन्होंने दावा किया कि वीडियों में शरीफ का एक वफादार प्रशंसक नसीर भट्ट और मलिक के बीच में बातचीत है जिसे पिछले साल दिसंबर में अल अजिजिया स्टील मिल भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में सात साल की जेल और फ्लैगशिप इनवेस्टमेंट मामले में बरी किया था। विपक्षी पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन)की उपाध्यक्ष ने मंडी बहाउद्दीन में एक रैली में अपने भाषण में खान को संबोधित करते हुए कहा अपना इस्तीफा देकर घर जाएं। जेल रोड पर हुई रैली में अपने संबोधन में मरियम ने दावा किया कि नवाज रिहा हो जाएंगे, और एक बार फिर प्रधानमंत्री बनाया जाएगा।