रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज मुख्यमंत्री निवास में आयोजित भेंट- मुलाकात जन चौपाल कार्यक्रम में प्रदेश के विभिन्न भागों से आये आम नागरिकों, विभिन्न संगठनों, वर्गों और संस्थाओं के पदाधिकारियों से रू-ब-रू होकर भेंट और मुलाकात की। भेंट-मुलाकात जन चौपाल में बड़ी संख्या में आये नागरिकों ने जहां मुख्यमंत्री को अपनी समस्याओं और कठिनाईयों की जानकारी दी वहीं श्री भूपेश बघेल की सरकार को उनके द्वारा लिए गए महत्वपूर्ण निर्णयों, कार्यो और उपलब्धियों के लिए बधाई और शुभकामनाएं भी दी।    
नई सरकार बनने के बाद आम लोगों से भेंट मुलाकात के इस पहले कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने एक-एक लोगों से मिलकर उनकी समस्याओं और कठिनाईयों को सुना और समझा तथा उनके आवेदनों पर अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश भी दिए। उल्लेखनीय है कि आम नागरिको ंसे मुख्यमंत्री के भेंट- मुलाकात का जन चौपाल आयोजन अब हर बुधवार को मुख्यमंत्री निवास में सुबह 11 बजे से होगा। मुख्यमंत्री निवास में कोई भी आम नागरिक इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात कर सकता है। मुख्यमंत्री स्वयं पूरे आयोजन के समय यहां उपस्थित रहें तथा लोगों से उनके सुख-दुख की जानकारी ली।
इस अवसर पर मंत्री सर्वश्री रविन्द्र चौबे, मोहम्मद अकबर, गुरू रूद्रकुमार, महापौर प्रमोद दुबे, विधायक कुलदीप जुनेजा भी उपस्थित थे। मंत्रीगणों ने भी इस अवसर पर नागरिकों की समस्याओं को सुना और उन पर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
परसापाली में गोठान स्वीकृत
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने जनचौपाल कार्यक्रम में जांजगीर-चापा जिले के विकासखंड बम्हनीडीह के ग्राम परसापाली में गोठान निर्माण की स्वीकृति दी। परसापाली में गोठान निर्माण के लिए रामधन नेताम ने आवेदन दिया था।
मुख्यमंत्री ने भेंट मुलाकात जन चौपाल की वेबसाइट का शुभारंभ किया
मुख्यमंत्री ने जन चौपाल कार्यक्रम प्रारंभ होने के पहले जन चौपाल की वेबसाइट का शुभारंभ किया। इसका एड्रेस है। जन चौपाल के आयोजन के लिये इस सॉफ्टवेयर को विशेष रूप से बनाया गया है। मुख्यमंत्री के उप सचिव और जनसम्पर्क विभाग के आयुक्त सह संचालक श्री तारण सिन्हा ने बताया कि आवेदकों को उनके मोबाइल के माध्यम से आवेदन के पंजीयन की तथा निराकरण की जानकारी दी जाएगी।
जन चौपाल में व्यापारियों ने मुख्यमंत्री के प्रति किया आभार व्यक्त
जन चौपाल आयोजन में अनेक प्रतिनिधि मंडल और नागरिकों ने मुख्यमंत्री को उनके उल्लेखनीय कार्यों,  योजनाओं और निर्णयों के लिए हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं भी दी। छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष जितेंद्र बरलोटा, चेयरमेन पूरनलाल अग्रवाल, पदाधिकारी लाल चंद गुलदानी, मनमोहन अग्रवाल, दीपक बल्लेवाल, भारत अग्रवाल ने मुख्यमंत्री को छत्तीसगढ़ में गुमाश्ता लाइसेंस की बार-बार प्रक्रिया से मुक्ति दिलाने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि इसकी मांग लंबे समय से व्यापारियों द्वारा की जा रही थी।  अब इस लाइसेंस को केवल एक बार बनवाना पड़ेगा। हर 5 साल में लाइसेंस बनाने की प्रक्रिया से व्यापारियों को नहीं गुजरना पड़ेगा।
पैरामेडिकल तकनीशियनों की सीधी भर्ती में गड़बड़ी की जाँच के निर्देश
जन चौपाल में मुख्यमंत्री ने मेडिकल कॉलेज रायपुर में पैरामेडिकल तकनीशियनों की सीधी भर्ती में गड़बड़ी की जाँच के निर्देश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सचिव को दिये हैं। जन चौपाल में पैरा मेडिकल तकनीशियन एसोसिएशन के प्रतिनिधि मंडल ने प्रांताध्यक्ष नरेश साहू के नेतृत्व में मुलाकात की और उन्हें भर्ती में अनियमितता के बारे में बताया।
छत्तीसगढ़ कण्डरा आदिवासी कोसरिया समाज राजिम के प्रतिनिधि मंडल ने अध्यक्ष भीमलाल कण्डरा ने श्री बघेल को बताया कि वर्ष 1972 से उनके समाज के प्रत्येक परिवार को प्रति वर्ष 1500 बांस दिए जा रहे थे, जिससे इन परिवारों की जीविका चलती थी, लेकिन वर्ष 2014 से बांस नहीं दिया जा रहा है, इससे उन्हें कठिनाइयों का सामना कर पड़ रहा है। मुख्यमंत्री ने उनकी समस्या के समाधान के लिए आवश्यक पहल करने का आश्वासन दिया। उन्होंन उनके आवेदन को परीक्षण और आवश्यक कार्रवाई के लिए वन विभाग भेजने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री से दुर्ग जिले के जंजगिरी गांव से आए किसानों के प्रतिनिधि ने मुलाकात की और बताया की गांव में डायवर्सन बांध और नहर का निर्माण वर्ष 1971-72 में हुआ था। इससे आसपास के गांवों को मिलाकर लगभग एक हजार एकड़ में सिंचाई होती थी, लेकिन वर्षों से बांध और नहर की मरम्मत नहीं होने से काफी कम सिंचाई हो पाती है। किसानों ने बांध और नहर की मरम्मत कराने का आग्रह मुख्यमंत्री से किया। मुख्यमंत्री ने उन्हें आवश्यक पहल का आश्वासन दिया तथा किसानों का आवेदन परीक्षण एवं कार्रवाई के लिए जल संसाधन मंत्री को भेजने के निर्देश दिए।
कवर्धा के दिव्यांग दीपक गुप्ता को स्वेच्छानुदान से दस हजार रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पने कवर्धा के वार्ड नंबर 11 निवासी दिव्यांग दीपक गुप्ता को जीवन यापन के लिए दस हजार रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की। इसी प्रकार श्री बघेल ने एच-6, पुलिस लाइन पेंशनबाडा रायपुर निवासी कुमारी निशिता मिश्रा, कुमारी नित्मा और शिखांश मिश्रा को शिक्षा हेतु स्वेच्छानुदान मद से 90 हजार रुपए की आर्थिक सहायता की स्वीकृति दी।
राशिदा बेगम को सिलाई के लिए सहायता राशि मंजूर
रायपुर के झंडा चौक संजय नगर की श्रीमती राशिदा बेगम आज मुख्यमंत्री से मिलकर खुश-खुशी घर लौटी। उनकी समस्या मुख्यमंत्री से मिलकर दूर हो गई। जनचौपाल कार्यक्रम में रशीदा बेगम ने मुख्यमंत्री को बताया कि उसके पति मजदूरी करते हैं और बीमार भी रहते है। घर की आर्थिक स्थिति ठीक नही चल रही है। उन्होंने बताया कि वह घर में ही सिलाई का काम करना चाहती है, जिससे उनके घर की आर्थिक स्थिति में सुधार हो सके। लेकिन उसके पास सिलाई मशीन खरीदने उसके पास पैसे नहीं है। मुख्यमंत्री ने राशिदा बेगम की कठिनाई को देखते हुए उनके आवेदन पर सिलाई का कामकाज शुरू करने 5 हजार रुपये की मंजूरी दी।
कमला बाई को किडनी के इलाज के लिए सहायता राशि मंजूर
कमला बाई को अब किडनी के इलाज कराने में आ रही आर्थिक समस्या दूर हो जाएगी। जन चौपाल में मुख्यमंत्री ने उन्हें इलाज के लिए 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता राशि मंजूर की है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को हीरापुर में रहने वाली श्रीमती कमला बाई राजेश ने बताया कि वह बहुत गरीब है, लड़का चाट का ठेला लगता है। कमला बाई ने बताया कि वह पिछले 10 वर्षो से किडनी की बीमारी से पीड़ित है। गरीबी के कारण बीमारी का ठीक से इलाज नही कर पा रही है। उसके लड़के की आमदनी भी बहुत कम है जिसके कारण काफी दिक्कत हो रही है। इस पर मुख्यमंत्री ने मौके पर ही इलाज के लिए 20 हजार रुपये की स्वीकृति दी।
नरवा, गरूवा, घुरवा, बारी योजना के लिए मुख्यमंत्री को दिया धन्यवाद
सरगुजा के लुंड्रा विकासखंड के ग्राम झेराडीह से आए श्री मनोज त्रिपाठी ने आज जन चौपाल में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से भेंट कर नरवा, गरूवा, घुरवा, बारी योजना शुरु करने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार के प्रति आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री से मिलकर उन्हें धन्यवाद देने वे अपनी पत्नी और तीन बच्चों के साथ सरगुजा से रायपुर आए हैं।
मुख्यमंत्री से मुलाकात के दौरान श्री त्रिपाठी ने कहा कि हर गांव में सुव्यवस्थित गोठान होने से लोग पशुपालन के लिए प्रेरित होंगे। वहां टीकाकरण और इलाज से पशुओं का स्वास्थ्य बेहतर होगा। गौवंशीय और भैंसवंशीय पशुओं के संरक्षण व संवर्धन की इस अनूठी योजना से गौमाता की पुरानी महत्ता हमारी ग्रामीण संस्कृति में वापस स्थापित होगी। उन्होंने मुख्यमंत्री से बुजुर्गों की सेवा के लिए मुख्यमंत्री माता-पिता सेवा योजना शुरु करने का निवेदन किया।
रायपुर के प्रयास एडुकेशन सोसायटी में पढ़ने वाले निर्धन छात्रों और छात्राओं ने आज मुख्यमंत्री निवास पहुंच कर जन चौपाल कार्यक्रम में शामिल हुई और उनके स्कूल के पास चल रहे शराब दुकान बंद करवाने में दिए गए सपोर्ट और मदद के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को धन्यवाद दिया। मुख्यमंत्री ने इन बच्चों से बात की और उन्हें शाबाशी दी। उन्होंने प्रयास संस्था को एक लाख रूपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की। उल्लेखनीय है कि इन बच्चों ने शराब की दुकान बंद करवाने धरना दिया था। ये गरीब बच्चे यहां निशुल्क पढ़ाई करते है। इनमे कई बच्चे अनाथ है और कई बच्चे परिवार की कमजोर परिस्थितियों के कारण छोटा मोटा कार्य कर परिवार को सहारा भी देते है।
शासकीय पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति आयुष एवं विज्ञान विश्वविद्यालय फार्मेसी के विद्यार्थियों ने प्रदेश अध्यक्ष राहुल वर्मा के नेतृत्व में  आज भेंट मुलाकात, जनचौपाल कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से उनके निवास पर मुलाकात की। संघ ने अपनी समस्याओं से मुख्यमंत्री को अवगत कराया और शीघ्र निराकरण कराने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री ने समस्या के संबंध में विद्यार्थियों से प्राप्त ज्ञापन को उचित कार्रवाई के लिए प्रमुख सचिव को प्रेषित किया है।
सीआईडीसी के अधिकारी कर्मचारियों ने किया आभार व्यक्त
कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से राज्य परिवहन निगम सीआईडीसी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने मिलकर 7 वां वेतन मान का लाभ दिलाने के लिए आभार व्यक्त किया। राज्य शासन के इस निर्णय से राज्य परिवहन निगम के 900 अधिकारी कर्मचारी लाभान्वित होंगे। इससे उन्हें 4 हजार से 20 हजार रुपए का लाभ मिलेगा। इस अवसर पर प्रतिनिधि मंडल में श्री अनीस अहमद बारी, एस डी सोरी,श्री शेख जमील भी शामिल थे।
मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता से जरूरतमंद मरीजों को मिली इलाज के लिए मदद
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास पर अनेक जरूरतमन्द मरीजों ने इलाज के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने उनकी समस्याएं सहानुभूति पूर्वक सुनीं और मदद का आश्वासन दिया। बीजापुर जिले की भोपालपट्टनम तहसील के ग्राम मददेड़ से आए श्री संतोष उप्पल ने  बताया कि उनकी दोनों किडनी खराब हो गई हैं। उन्हें हर माह पांच बार डायलिसिस करना पड़ता है और इसके लिए जगदलपुर जाना पड़ता है। इलाज में उनकी सारी जमा पूंजी खर्च हो चुकी है, आगे के इलाज के लिए आर्थिक मदद की जरुरत है। मुख्यमंत्री ने सहानुभूति पूर्वक उनकी समस्या सुनी और मदद का आश्वासन दिया। श्री बघेल से उनके इलाज के लिए संजीवनी कोष से आर्थिक मदद के लिए स्वीकृति प्रदान की। महासमुंद जिले के ग्राम मुढ़ीपार की श्रीमती स्वर्णलता सिंह की तीन माह पूर्व बस दुर्घटना में पसली टूट गई थी। उनका इलाज चल रहा है। उन्होंने भी मुख्यमंत्री से आर्थिक सहायता का आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने श्रीमती सिंह को इलाज के लिए संजीवनी कोष से पचास हजार रूपए की स्वीकृति प्रदान की। दर्री घाट बिलासपुर के निवासी श्री दीपक दास मूत्र संबंधित रोग से पीड़ित है। मुख्यमंत्री ने उन्हें रायपुर के डी.के.एस. अस्पताल में निःशुल्क इलाज की सुविधा उपलब्ध करने के निर्देश दिए हैं। संजीवनी कोष से मदद के लिए 9 मरीजों ने आवेदन दिए उनके आवेदन परीक्षण और आवश्यक कार्रवाई के लिए भेजे गए हैं।
विराजदास दाहिया को इलाज के लिए तीन लाख रुपए की सहायता
हाई वोल्टेज बिजली की तार  झुलसे  घायल विराजदास को मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इलाज के लिए तीन लाख रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृत की है। सिविल लाइन रायपुर निवासी विराजदास दाहिया क्रिकेट खेलते समय 11 हजार के वी के करंट प्रवाहित विद्युत तार के संपर्क में आकर गंभीर रूप से झुलस गए थे। उनका इलाज कालडा कास्मेटिक सर्जरी इंस्टीट्यूट, एडवांस बर्न एवं ट्रामा सेंटर रायपुर में चल रहा है। इलाज में अधिक खर्च हो जाने के कारण उनकी माली हालत बिगड गई थी। इलाज के लिए उनके पास पैसे नहीं थे। आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पहला जनचौपाल, भेंट -मुलाकात का आयोजन विराजदास के लिए सौभाग्य शाली साबित हुआ।
विराजदास का आवेदन आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के पास पहुंचा। श्री बघेल ने उनके आवेदन पर त्वरित, संवेदनशील कार्रवाई की और  विराजदास के इलाज के लिए तीन लाख रुपए की तत्त्काल स्वीकृति दी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास पर जन चौपाल भेंट- मुलाकात कार्यक्रम में धमतरी जिले के सिहावा से आए सप्त ऋषि साधु सेवा समिति के प्रतिनिधि मंडल ने मुलाकात की। उन्होंने महानदी के उदगम स्थल पर कल्पेश्वर महादेव गणेश घाट स्थित संत मुरली बाबा आश्रम में पेयजल व्यवस्था, सामुदायिक भवन, शौचालय आदि कार्य करने के लिए आवेदन दिया। मुख्यमंत्री के निदेश पर उनका आवेदन आवश्यक कार्रवाई के लिए संचालक धर्मस्व और धार्मिक न्यास को भेज गया है।
व्यापारी संघों के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताया
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के रायपुर स्थित निवास में आज से प्रारम्भ हुए जन चौपाल, भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में विभिन्न व्यापारी संघों के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री से मुलकर की। उन्होंने गुमाश्ता लाइसेंस नवीनीकरण प्रक्रिया को लाइफ टाइम करने के राज्य शासन के फैसला के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि इस निर्णय से व्यापारियों को बार-बार लाइसेन्स नवीनीकरण में होने वाली परेशानियों से राहत मिलेगी। प्रतिनिधि मंडल में राईस मिल एसोसिएशन, प्रिंटर्स एसोसिएशन, रायपुर मशीनरी मर्चेंट एसोसिएशन और गंज डबरी मर्चेंट एसोसिएशन सहित विभिन्न व्यापारी संघों के प्रतिनिधि शामिल थे। इन्होंने व्यापारी नेता राजेन्द्र जग्गी के नेतृत्व में मुलाकात की। सर्वश्री गुरजीत सिंह संधु, अमर परचानी, मनोज जैन, सोहेब अंसारी, अखिल अग्रवाल और प्रमोद जैन भी इस अवसर पर उपस्थित थे।