ग्वालियर ।  मानव सभ्यता में जल, जंगल, जमीन की महती भूमिका है। जिसे सहेजकर रखना हम सबका दायित्व है। वर्तमान समय में मानव समाज स्वार्थ में लिप्त होकर अपने ही हाथों प्रकृति को नुकसान पहुँचा रहा है। अवैध रूप से वन कटाई जंगल एवं नदियों में अवैध उत्खनन से धीरे-धीरे प्राकृतिक संपदायें नष्ट होने लगी हैं। जीवन में जल की आवश्यकता है। वृक्ष, पशु-पक्षी, जीव-जन्तु, वन्य प्राणी सहित मानव समाज में पानी की जरूरत होती है। इसे बचाकर रखना जरूरी है। यह  बात पुलिस महानिरीक्षक श्री राजाबाबू सिंह ने जनपद पंचायत मुरार की ग्राम पंचायत टिहोली में ग्रामवासियों के मध्य चर्चा के दौरान कही। नदी, नालों, तालाब व अन्य पुराने जल स्त्रोतों का जीर्णोद्धार किए जाने पर ही गिरते जा रहे भू-जल स्तर को ऊपर लाने में कारगर होगा।     इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा, सीईओ जनपद पंचायत डॉ. विजय दुबे एवं पंचायत अधिकारी श्री सुनील सिंह चौहान, सहायक यंत्री मनरेगा श्री अनिल शुक्ला, सरपंच श्री आशाराम बघेल सहित जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी-कर्मचारी व ग्रामीणजन उपस्थित थे। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा ने ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि जल स्त्रोतों के जीर्णोद्धार एवं निर्माण में शासन के साथ ही जन भागीदारी भी जरूरी है। उन्होंने ग्रामीण जनों को जल बचाने, वृक्षारोपण एवं संरक्षण हेतु संकल्प दिलाते हुए कहा कि यदि जल संरक्षण एवं संवर्धन के कार्यों को स्वयं के कार्य के रूप में लेंगे तो निश्चित ही आने-वाले समय में पानी की समस्या का निदान होगा।
वैसली नदी के पुनर्जीवन के लिए किया श्रमदान
    पुलिस महानिरीक्षक श्री राजाबाबू सिंह एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा द्वारा ग्राम टिहौली में वैसली नदी के चौड़ीकरण एवं गहरीकरण के लिए ग्रामवासियों के साथ श्रमदान किया गया। ग्रामवासियों ने उत्साहित होकर जल संवर्धन एवं संरक्षण में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने का संकल्प लिया। सीईओ जनपद पंचायत डॉ. विजय दुबे ने बताया कि पुल से काशीपुर की ओर एक किलोमीटर नाला अपर स्ट्रीम तथा 800 मीटर डाउन स्ट्रीम में नदी के चौड़ीकरण एवं गहरीकरण का कार्य मनरेगा एवं जन सहयोग से प्रारंभ किया गया है।
ग्राम टिहोली हाईस्कूल में किया वृक्षारोपण
    ग्राम टिहोली में स्थित हाईस्कूल परिसर में पुलिस महानिरीक्षक श्री राजाबाबू एवं सीईओ जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा द्वारा नीम, पीपल, शीशम, जामुन सहित अन्य प्रजातियों के पौधे रोपित किए गए। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा ने ग्रामवासियों से कहा कि पेड़-पौधे प्रकृति की धरोहर हैं। सामाजिक और धार्मिक जीवन में वृक्ष का महत्वपूर्ण स्थान है। इनका संरक्षण करना हमारा दायित्व है।छात्र-छात्राओं के बीच मनाया जन्मदिन    माध्यमिक विद्यालय टिहोली में पहुँचकर पुलिस महानिरीक्षक श्री राजाबाबू सिंह द्वारा विद्यालय के ग्रामीण छात्र-छात्राओं के बीच अपना जन्मदिन मनाया। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री शिवम वर्मा, सीईओ जनपद पंचायत डॉ. विजय दुबे सहित सरपंच ग्राम पंचायत, प्राचार्य, शिक्षकगण व छात्र-छात्राओं ने जन्मदिवस पर बधाई दी तथा गुलदस्ता भेंट कर अभिनंदन किया।अतीत का स्मरण करते हुए पुलिस महानिरीक्षक श्री राजाबाबू सिंह ने बताया कि उनका जन्म ग्रामीण क्षेत्र में हुआ है तथा प्रारंभिक शिक्षा ग्रामीण परिवेश में ही हुई। उसके पश्चात आगे की पढ़ाई के लिए शहरों में जाना हुआ। उस समय ग्रामीण क्षेत्र में दूर-दूर स्कूल विद्यालय हुआ करते थे। आवागमन के साधन सीमित हुआ करते थे। अत: मेहनत एवं लगन से मेरे जैसे कई ग्रामीण युवकों ने कामयाबी हासिल की। आज के दौर में शासन की योजनाओं में शिक्षा, स्वास्थ्य, आवागमन के लिए मार्ग व वाहन आदि की मूलभूत सुविधाएं शहरी क्षेत्र के साथ ग्रामीण क्षेत्र में प्राप्त हो रही हैं। छात्र-छात्राओं से एक-एक करके विषय-वस्तु पर प्रश्न पूछे तथा उसका समाधान किया ।
श्री सिंह ने बच्चों की ओर मुखातिब होकर पूछा कि बच्चों में से कौन डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, शिक्षक, पुलिस बनना चाहेंगे। विद्यालय की छात्रा कु. स्वाति ने भारत माता का नाम ऊँचा रखने के लिए पुलिस बनने की इच्छा जताई। इस अवसर पर श्री सिह ने छात्र-छात्राओं को टॉफी, बिस्किट एवं पाठ्य पुस्तकें भी वितरित कीं।
जिला पंचायत सीईओ ने किया समस्याओं का समाधान     ग्राम वासियों से रूबरू चर्चा करते हुए उनकी समस्याओं की जानकारी लेते हुए मौके पर ही कल्याणी योजना अंतर्गत पात्र विधवा महिलाओं को पेंशन की स्वीकृति दी तथा सीईओ जनपद पंचायत को निर्देश दिए कि आने वाले कार्य दिवस पर पंचायत मुख्यालय पर शिविर आयोजित कर छूटे हुए पात्र पेंशन के प्रकरण तैयार कराए जाकर स्वीकृति की कार्रवाई करें तथा ग्रामीणों की अन्य समस्याओं का भी समाधान किया जाए। मौके पर कार्य के प्रति लापरवाही बरतने पर ग्राम पंचायत सचिव जगन्नाथ कुशवाह एवं ग्राम रोजगार सहायक प्रमोद शर्मा के प्रति नाराजगी व्यक्त करते हुए चेतावनी दी कि अपने कर्तव्यों के प्रति सजग रहते हुए शासकीय कार्यों को संपादित करें। भविष्य में कार्य के प्रति लापरवाही पाए जाने पर वैधानिक कार्रवाई की जायेगी।