आप भी अगर फ्राई चिकन और फिश खाने के शौकीन हैं तो सावधान हो जाएं, क्योंकि आपका यह शौक आपके जीवन को खतरे में डाल सकता है। एक अध्ययन रिपोर्ट के अनुसार नियमित तौर पर तली हुई मछली या चिकन खाने वाली महिलाओं की दूसरी महिलाओं के मुकाबले जल्दी मौत होने का खतरा 13 फीसदी अधिक बढ़ जाता है। 
इस अध्ययन के मुताबिक, तली हुई मछली, चिकन या दूसरी तली हुई चीजों का कम सेवन करने से लोगों की सेहत में सुधार आ सकता है। शोधकर्ताओं के मुताबिक, कोई भी खाने की चीज जब तली जाती है, तो वो फैट एब्जॉर्ब कर लेती है। वहीं, तलने के बाद खाने की चीज ज्यादा क्रंची हो जाती है, जिससे लोग जरूरत से ज्यादा खो लेते हैं और यही बिमारियों का कारण होता है। 
तली हुई चीजों का अधिक सेवन करने से टाइप-2 डायबिटीज और दिल की बीमारी होने का खतरा भी अधिक होता है हालांकि यह पहला अध्ययन है जिसमें तली हुई चीजों के सेवन का संबंध मौत के बढ़ते हुए खतरे से बताया गया है।
इस अध्ययन के लिए शोधकर्ताओं की टीम ने 50 से 79 वर्ष  की लगभग 107,000 महिलाओं की खाने की आदतों की जांच की। इसमें शामिल सभी महिलाओं से पूछा गया कि वो किन चीजों का कितना सेवन करती हैं।
तली हुई चीजों का अधिक सेवन करने से महिलाओं में जल्दी मौत होने का खतरा भी अधिक होता है। इस रिपोर्ट में यह भी सामने आया कि तला हुआ चिकन खाने से जल्दी मौत होने का खतरा 13 फीसदी तक बढ़ जाता है, जबकि दिल की बीमारी का खतरा 12 फीसदी तक अधिक होता है।