भोपाल में बड़े तालाब के अतिक्रमण को सख्ती से हटायें। किसी  का भी फोन आये, प्रभावित न हों। 'हरा भोपाल-शीतल भोपाल' की कल्पना को पूरा करने के लिए जल स्त्रोतों की सफाई और अधिक से अधिक पौध-रोपण किया जायेगा। वक्ताओं ने ये बातें हिरदाराम नगर में बड़े तालाब के गहरीकरण के शुभारंभ पर कही। जनसम्‍पर्क, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री पी.सी. शर्मा, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री जयवर्धन सिंह और महापौर श्री आलोक शर्मा ने श्रमदान कर गहरीकरण का शुभारंभ किया।

जनसम्‍पर्क मंत्री श्री शर्मा ने कहा कि तालाब के गहरीकरण से जो मिट्टी निकलेगी, उसका उपयोग पौधा लगाने में किया जाये। उन्होंने कहा कि एक पेड़ कटे, तो तीन पौधे लगायें। उन्होंने कहा कि भोपाल की पहचान तालाबों से है। तालाब का अतिक्रमण हटाने में सभी के सहयोग की जरूरत है।

दिसम्बर-जनवरी से ही शुरू हो गहरीकरण

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री सिंह ने कहा कि तालाब के गहरीकरण की कार्य-योजना बनाकर आगामी दिसम्बर-जनवरी माह से ही कार्य शुरू करें। तालाब के भराव क्षेत्र में आने वाले सभी अतिक्रमणों को सख्ती से हटायें। उन्होंने कहा कि तालाब में गंदा पानी मिलने से रोकने के लिये अमृत योजना में नालों के पानी का ट्रीटमेंट करें। श्री सिंह ने कहा कि बड़ा तालाब भोपाल का दिल है। इसकी सुरक्षा की जिम्मेदारी हम-सबकी है।

महापौर श्री आलोक शर्मा ने कहा कि विलंब जरूर हुआ है, लेकिन जितना समय मिलेगा, उसमें अधिक से अधिक कार्य किया जायेगा। उन्होंने कहा कि 'हरा भोपाल-शीतल भोपाल' की कल्पना को मूर्त रूप देने के लिए हर संभव प्रयास किये जायेंगे। श्री शर्मा ने अतिक्रमण हटाने में सबके सहयोग की अपेक्षा की। विधायक श्री रामेश्वर शर्मा ने कहा कि भोपाल के साथ निकटवर्ती ग्रामों में भी पौध-रोपण किया जाये।

कमिश्नर भोपाल संभाग श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव ने कहा कि बड़ा तालाब भोपाल की जीवन रेखा है। इसका पुनरूद्धार जरूरी है। उन्होंने बताया कि तालाब की मिट्टी का उपयोग पौध-रोपण में करेंगे।

24 हजार करोड़ लीटर जल संग्रहण क्षमता बढ़ेगी

भदभदा में किये गहरीकरण से लगभग 14,580 करोड़ लीटर और हिरदाराम नगर के पास किये जाने वाले गहरीकरण से लगभग 10 हजार करोड़ लीटर पानी अधिक संग्रहीत होगा।

अतिथियों ने 'हरा भोपाल-शीतल भोपाल' ब्रोशर का विमोचन किया। उन्होंने उपस्थित जन-समुदाय को जल संग्रहण, पौध-रोपण और स्वच्छता की शपथ दिलायी। नगर निगम अध्यक्ष श्री सुरजीत सिंह चौहान ने आभार प्रदर्शन किया। इस दौरान अन्य जन-प्रतिनिधि, मुख्य वन संरक्षक श्री आर.के. तिवारी, कलेक्टर श्री तरूण पिथोड़े, नगर निगम कमिश्नर श्री विजयदत्ता और गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।